Uthra Murder Case : सांप से पत्नी की हत्या मामले में पति दोषी करार

कोच्चिं : केरल की एक अदालत ने Uthra Murder Case में मृतक के पति को दोषी ठहराया। अदालत ने सूरज नाम के शख्स को पिछले साल मई में तेईस वर्षीय पत्नी उथरा को नींद में एक कोबरा से डसवाकर उसकी हत्या करने का दोषी ठहराते हुए कहा की उसकी सजा की घोषणा बुधवार 13 अक्टूबर को की जाएगी।

Uthra Murder Case  वैज्ञानिक तरीके से जांच का उदाहरण

अदालत के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए राज्य के पुलिस प्रमुख अनिल कांत ने कहा कि यह दुर्लभतम मामलों में से एक है जिसमें आरोपी को सबूतों  के आधार पर दोषी पाया गया है। इस मामले की जांच करने वाली पुलिस टीम की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि यह इस बात का एक उदाहरण है कि कैसे वैज्ञानिक और पेशेवर तरीके से हत्या के मामले की जांच की गई और उसका पता लगाया जा सकता है।

पुलिस प्रमुख ने तिरुवनंतपुरम में पत्रकारों से कहा कि मामला मुश्किल था। उन्होंने कहा कि जांच दल ने मामले को सुलझाने के लिए फोरेंसिक मेडिसिन, फाइबर डाटा, जानवर के डीएनए और अन्य सबूतों का विश्लेषण करने में बहुत मेहनत की। सूरज को आईपीसी की धारा 302 (हत्या), 307 (हत्या का प्रयास), 328 और 201 के तहत दोषी पाया गया है।

सूरज ने 7 मई, 2020 को अपने कमरे में कोबरा को छोड़कर पत्नी उथरा को जानबूझकर डसवाया ताकि वह मर जाए। इससे पहले उसने पत्नी को नींद की गोलियां खिला दी थीं। पुलिस जांच में ये बात सामने आई है कि सूरज ने सांप पकड़ने वालों से दो बार पैसे देकर कोबरा खरीदे थे। यह मामला तब सामने आया जब महिला के माता-पिता ने उसकी मौत के कुछ दिनों बाद थाने में शिकायत दर्ज कराई और आरोप लगाया कि सूरज और उसके परिवार के सदस्यों ने उसकी बेटी को दहेज के लिए परेशान करते थे।

यह भी पढ़ें : चार दिन से कम स्टॉक वाले पावर प्लांट्स की संख्या बढ़कर हुई 70

Related Articles