यूपी विधानमंडल शीतकालीन सत्र जनवरी में

0

Ram_Naik

लखनऊ। यूपी के राज्यपाल राम नाईक ने मंगलवार को राजस्व संहिता संशोधन अध्यादेश 2015 को मंजूरी दे दी है। यह अध्यादेश काफी समय से लंबित था। राज्य सरकार ने राजस्व संहिता 2006 में संशोधन के लिए राज्यपाल के पास भेजा था। राज्य विधान मण्डल के शीतकालीन सत्र जनवरी के अंतिम सप्ताह में बुलाए जाने की संभावना है इसलिए राज्यपाल ने यह निर्णय लिया है।

राजस्‍व सं‍हिता संशोधन विधेयक मंजूर

सनद रहे कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 14 दिसम्बर 2015 को एक पत्र राज्यपाल राम नाईक को भेजा था। उस पत्र में सीएम ने कहा था कि राज्य विधान मण्डल का सत्र जनवरी के अंतिम सप्ताह में आहूत करने के लिए मंत्रिपरिषद की आगामी बैठक में चर्चा के लिए लाया जाएगा। उसके बाद मुख्यमंत्री ने राजभवन जाकर राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात की थी। राज्यपाल ने मुख्यमंत्री से शीतकालीन सत्र बुलाने और राजस्व संहिता संशोधन अध्यादेश के बारे में बात की थी। इसके अतिरिक्त लोकायुक्त नियुक्ति विधान परिषद के सदस्यों का नामांकन व अन्य विचाराधीन विधेयकों पर भी विस्तार से विचार विनिमय भी हुआ था।

loading...
शेयर करें