उत्तर प्रदेश चुनाव: शांत दिख रहें चुनावी माहौल में अचानक बढ़ी हलचल, जानिए वजह

देश के सबसे ज्यादा अबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश में विधान सभा परिषद की चुनाव होने को है।

लखनऊ: देश के सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में विधान सभा परिषद का चुनाव होने को हैं और प्रदेश की सभी पार्टीयों ने अपनी तैयारी करने की रफ्तार दोगुनी कर दी है।

समाजवादी पार्टी के दो सदस्यों की घोषणा होने के बाद भाजपा ने भी चुनावी पहल किया है और अपनी पहली सूची में चार नामों का ऐलान कर दिया है। जिसमें BJP के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, लक्ष्मण आचार्य और पूर्व आईएएस एके शर्मा शामिल हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के करीबी पूर्व आईएएस अधिकारी एके शर्मा ने मकर संक्राति पर लखनऊ में भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है।

सियासी दांव-पेंच का खेल शुरू

विधान सभा परिषद की 12 सीटों पर जम के सियासी खेल खेला जा रहा है। 12 एमएलसी सदस्यों की सदस्यता 30 जनवरी को समाप्त हो जाएगी भाजपा को अभी 6 सीटों पर अपना प्रत्याशी उतारना बाकी है।

इस चुनाव में अगर भाजपा की संख्या बल की बात करे तो 12 में से 10 सीटें भाजपा के पक्ष में हैं और समाजवादी पार्टी की 1 सीट पर जीत पक्की होती नजर आ रही है। बसपा ने अभी कोई घोषणा नहीं की है। वही कांग्रेस के पास कोई चेहरा नजर नहीं आ रहा है।

यह भी पढ़ेे: Farmers Protest: किसानों के समर्थन में राहुल गांधी, बोले सरकार कर रही गुमराह, किसानों की नहीं है कोई परवाह

Related Articles

Back to top button