कोरोना टेस्टिंग के मामले में सबसे आगे उत्तर प्रदेश, 11 जनवरी से चलेगा ड्राई रन अभियान

कोरोना काल के दौरान ढाई करोड़ से अधिक टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश इस दिशा में देश के अन्य राज्यों से काफी आगे है।

लखनऊ: कोरोना (COVID-19) काल के दौरान ढाई करोड़ से अधिक टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश इस दिशा में देश के अन्य राज्यों से काफी आगे है। सूबे के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल (Navneet Sehgal) ने शुक्रवार को पत्रकारो को बताया कि वैक्सीनेशन की तैयारियों को लेकर ड्राई रन (Dry run) का फाइनल अभियान 11 जनवरी को पूरे प्रदेश में चलाया जायेगा, जिससे किसी प्रकार की कमी को पहले से ही दूर कर लिया जायेगा। इसके साथ ही वैक्सीन (Vaccine) भण्डारण, सुरक्षा आदि की व्यवस्था की जा रही है तथा वैक्सीन आने के बाद तय लक्षित समूहों को लगाने की कार्यवाही की जायेगी।

मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कल एक दिन में कुल 1,46,056 सैम्पल की जांच की गई। प्रदेश में अब तक कुल 2,50,34,039 सैम्पल की जांच की गई है, 2.50 करोड़ से अधिक टेस्ट करने वाला देश में प्रथम राज्य उत्तर प्रदेश बन गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना (COVID-19) सेे संक्रमित 775 नये मामले आये हैं।

ये भी पढ़ें : राज्यपाल ने दी लव जिहाद (Love Jihad) संबंधी अध्यादेश को मंजूरी, आज से हो सकता है लागू

प्रदेश में 11,535 कोरोना के एक्टिव मामले में से 4,713 लोग होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि निजी चिकित्सालयों में 1,056 लोग ईलाज करा रहे हैं, प्रदेश में कोविड-19 का रिकवरी प्रतिशत 96.62 है। प्रदेश में अब तक कुल 5,71,606 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि वैक्सीनेशन की तैयारियों को लेकर 11 जनवरी को पूरे प्रदेश के 1500 केन्द्रों पर ड्राई रन का फाइनल अभियान चलाया जायेगा।

Related Articles

Back to top button