Uttarakhand Glacier Tragedy: जान बचाने वाली मां को 5 लाख का इनाम, धौली गंगा का जलस्तर बढ़ने का डर

अखिलेश यादव ने यह ऐलान करते हुए बोला कि उत्तराखंड हादसे में अपने बेटे की ही नहीं बल्कि 25 और लोगों की जान बचाने वाली मां उन्हें समाजवादी पार्टी 5 लाख रुपये से सम्मानित करेगी

Uttarakhand: उत्तराखंड (Uttarakhand) के चमोली में जोशीमठ के पास तपोवन इलाके (Tapovan Area) में 7 फरवरी को ग्लेशियर फटने से राज्य को अब तक इस तबाही का नुकसान उठाना पड़ रहा है। चमोली में धौली गंगा (Dhauli Ganga) का जल स्तर बढ़ने की संभावना है।

पहाड़ के नीचे बना रास्ता

आदित्य प्रताप सिंह, डिप्टी कमांडेंट, NDRF ने बताया कि कुछ दिनों में धौली गंगा (Dhauli Ganga) का जलस्तर बढ़ने की संभावना है, इसके लिए प्रशासन और एजेंसी द्वारा गेज लगाया जा रहा है। जो नदी की गहराई और ऊंचाई को नाम सकेगा।

यह भी पढ़ेसुंदर बनने की सनक में नाबालिक ने कराई 100 प्लास्टिक सर्जरी, चेहरा देख उड़ जाएंगे होश 

एनडीआरएफ के जवानों ने चमोली (Chamoli) में धौलीगंगा नदी में एक गेज लगाने के लिए पहाड़ के नीचे अपना रास्ता बनाया है। जिससे नदी की गहराई और उसका जलस्तर मापा जा सकेगा। उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने से एवलांच के बाद ऋषिगंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट (Rishiganga Hydro Power Project) पूरी तरह से तबाह हो चुका है। इसके साथ ही धौलीगंगा पर बना हाइड्रो प्रोजेक्ट का बांध टूट गया है।

जान बचाने वाली मां को इनाम

उत्तराखंड ग्लेशियर त्रासदी में उत्तरप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने यह ऐलान करते हुए बोला कि उत्तराखंड की जिस जागरूक माँ ने उत्तराखंड हादसे में अपने बेटे की ही नहीं बल्कि 25 और लोगों की भी जान बचाई उन्हें समाजवादी पार्टी 5 लाख रुपये से सम्मानित करेगी।

उप्र सरकार से सपा की मांग है कि वो इस हादसे में लापता उप्र के निवासियों के परिवारों को 20-20 लाख का मुआवजा दे।

यह भी पढ़ेPetrol/Diesel Price: तेल और गैस के बढ़े दामों पर LPG सिलेंडर के साथ विरोध प्रदर्शन, राज्य आधे दिन बंद

Related Articles

Back to top button