देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए वैक्सिनेशन एक मात्र उपाए: वित्त मंत्री

नई दिल्ली: देश की अर्थव्यवस्था (Economy) को अगर मजबूती देनी है तो वैक्सिनेशन ही एक मात्र है उपाए है, इसका दावा रविवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने किया है। वित्त मंत्री ने ऐसा इसलिए कहा है क्योंकि यह लोगों को नियमित रूप से कारोबार करने या किसानों को खेती करने की अनुमति देती है। इसके अलावा उन्होंने बताया है कि देश के 73 करोड़ लोगों ने कोविड-19 वैक्सीन की डोज ले ली है।

वित्त मंत्री ने कहा है कि, ”देश में वैक्सीनेशन का अभियान तेजी से चल रहा है और अब तक 73 करोड़ से अधिक लोगों ने निशुल्क टीका लगवा लिया है। आज इसी की वैक्सीनेशन की वजह से लोग कारोबार करने, व्यापारी कारोबार चलाने के लिए प्रोडक्ट खरीदने, इकोनॉमी को मजबूती देने या किसान खेती करने के सक्षम हो सके है। इसलिए वैक्सीनेशन ही इकोनॉमी को मजबूती देने के लिए इस वायरस से लड़ने की एकमात्र दवा है।

तीसरी लहर नहीं आने के लिए प्रार्थना

तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक के शताब्दी समारोह में निर्मला सीतारमण ने देश के लिए प्रार्थना करते हुए कहा की, ”हम सभी ईश्वर से प्रार्थना कर करते हैं कि कोरोना की तीसरी लहर अब न आए। मान लीजिए अगर तीसरी लहर आती है तो सभी को अस्पतालों की उपलब्धता के बारे में सोचना होगा, अगर कोई अस्पताल है भी तो क्या उसमें आईसीयू है और अगर आईसीयू है तो क्या उसमें ऑक्सीजन है?

Related Articles