लखनऊ के मेडिकोज में इस तरह से मनाया गया वसंत पंचमी, देखें- खूबसूरत तस्वीरें

लखनऊ: कुलपति प्रो़ एमएलबी भट्ट ने नव निर्मित सरस्वती मंदिर का लोकार्पण, प्रतियोगिताओं में विद्यार्थियों ने लिया हिस्सा| किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय बुधवार को बसंती बयार में डूबा दिखा। केजीएमयू में बसंत पंचमी समारोह का आयोजन किया गया। इसमें कुलपति प्रो़ एमएलबी भट्ट ने नव निर्मित सरस्वती मंदिर का लोकार्पण और दर्शन एवं पूजन कर पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद यज्ञ और प्रसाद वितरण हुआ। कार्यक्रम में डॉक्टर, शिक्षक, छात्र-छात्राएं शामिल हुईं।

कार्यक्रम में कुलपति ने कहा कि वसंत पंचमी मां सरस्वती की अराधना का पर्व है, जो हमें ज्ञान, सद्‌बुद्धि, विवेक और यश देती हैं। कार्यक्रम में केजीएमयू के पूर्व प्रधानाचार्य प्रो़ एएमकार ने विजेताओं को पुरस्कृत कर सम्मानित किया। वाणी की देवी मां सरस्वती को समर्पित वसंत पचंमी पर्व से होलिकोत्सव की शुरुआत हो जाती है। इस महापर्व पर होलिका दहन के स्थलों पर पेड़ का खम्ब लगाया जाता है। वहीं, इस दिन श्रद्धालु विद्या की देवी मां सरस्वती का पूजन करते हैं।

श्रीरामलीला समिति महानगर में सामूहिक यज्ञोपवीत संस्कार का आयोजन किया गया है। शिरडी साईं भजन संध्या महोत्सव का आयोजन जानकीपुरम विस्तार सेक्टर 3 के चंद्रिका टावर में किया गया है। चौपटिया के प्रतिष्ठित संदोहन देवी मंदिर में बुधवार को प्राण प्रतिष्ठा समारोह के तहत बुधवार को देव प्रतिमाओं की शोभायात्रा निकाली गई। निराला नगर के रामकृष्ण मठ में बसंत पंचमी सरस्वती पूजन अनुष्ठान में पूजा, भोग, पुष्पांजलि, हाटे खारी, हवन, भजन होगा।

गोमतीनगर सर्वजनीन पूजा समिति के अध्यक्ष सुब्रत राय की अगुआई में विवेक खंड पानी टंकी पार्क में विधिविधान से प्रतिमा स्थापित कर पंडित शुभांकर बनर्जी ने पूजन किया। इस अवसर पर चच्चड़ी, खीर का प्रसाद भक्तों में बांटा गया। बसंत पंचमी एक ओर जहां लोगों में आस्था जागृत करती हैं, वहीं यह हमें प्रकृति से जोड़ती है।

Related Articles