धूमधाम से मनाया गया वसंतोत्सव, मनकामेश्वर घाट पर हुई होलिका दहन खंभ की स्थापना

लखनऊ: वसंत पर्व पर चारों तरफ भजन पूजन का माहौल रहा. इस मौके पर डालीगंज के मनकामेश्वर मठ-मंदिर की ओर से आयोजित दो दिवसीय वसंतोत्सव का आयोजन किया गया था. महंत देव्यागिरी की अगुआई में इस अवसर पर पौध-रोपण, भजन-कीर्तन, वीणा पूजन आदि अनुष्ठान भी हुए। वहीँ दूसरे दिन होलिका दहन खंभ स्थापित किया गया.  इस दौरान मनकामेश्वर घाट उपवन पर वेद मंत्रों और शंखनाद किया गया।

इस तरह तैयार होगी इको फ्रेंडली होलिका

वसंत पर्व के इस मौके पर महंत देव्यागिरी के सानिध्य में दोपहर में मनकामेश्वर घाट उपवन में फूलों और रंगों से शुसज्जित आकर्षक रंगोली बनायी गई। रंगोली बनाने से पहले आदि गंगा मां गोमती के जल से स्थान को पवित्र किया गया था. उसके बाद शंखनाद और जयघोष के साथ होलिका दहन का खम्भ स्थापित किया गया। महंत देव्यागिरी ने कहा कि गोबर के कंडों से विशाल होलिका तैयार की जाएगी, उन्होंने कहा कि ऐसा करने से मनकामेश्वर का होलिकोत्सव प्राकृतिक समन्वय का संदेश देगा।

वसंत पर्व को ख़ास अंदाज मनाया गया

वसंतोत्सव में महिलाएं पीले वस्त्र पहल कर आयीं थी।  इस अवसर पर देवताओं और गुरुजनों को अबीर-गुलाल अर्पित करने के बाद परस्पर अबीर-गुलाल खेलकर फागुनोत्सव की औपचारिक घोषणा भी कर दी गई। मनकामेश्वर घाट उपवन में मां शारदे के वाद्य यंत्र वीणा को स्थापित किया गया था.

यह भी पढ़ें: जेल में बंद आसाराम की तबीयत बिगड़ी, सांस लेने में तकलीफ के बाद अस्पताल में भर्ती

Related Articles

Back to top button