वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर ड्रोन हमला, बाल-बाल बचे!

कराकस: वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो एक ड्रोन हमले में शनिवार को बाल-बाल बच गए। लाइव टीवी पर स्पीच के दौरान निकोलस के नजदीक विस्फोटक सामग्री से भरे कुछ ड्रोन गिरे। जानकारी के मुताबिक, यह हमला उस समय हुआ जब राष्ट्रपति मादुरो राजधानी कराकस में सैकड़ों सिपाहियों को संबोधित कर रहे थे।

इस हमले को राष्ट्रपति की हत्या का प्रयास बताया जा रहा है, जिसके लिए चरमपंथी गुटों और कोलंबिया के निवर्तमान राष्ट्रपति जुआन मैनुअल सांतोस को जिम्मेदार ठहराया गया है।

सीएनएन के मुताबिक, शनिवार को जब मदुरो बोलीविया नेशनल गार्ड की 81वीं वर्षगांठ के मौके पर खुले मैदान में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। तभी ड्रोन हमला हुआ। इस दौरान सुरक्षाकर्मियों ने मादुरो को तुरंत मंच से उतारकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया।

जिस पोडियम पर खड़े होकर मदुरो भाषण दे रहे थे, उसके पास ही विस्फोटकों से भरे दो ड्रोन विस्फोटित हुए। संचार मंत्री जॉर्ज रॉड्रिज ने इस घटना की पुष्टि की। इस घटना के कुछ घंटे बाद मदुरो ने राष्ट्रीय टेलीविजन पर जनता को संबोधित करते हुए कहा कि वह एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे कि उनके भाषण के दौरान ही उनके सामने विस्फोट हुआ।

उन्होंने कहा, “एक उड़ती हुई चीज मेरे सामने विस्फोटित हुई। बहुत बड़ा धमाका था। कुछ सेकंड बाद दूसरा विस्फोट हुआ। मैंने पहले सोचा कि यह पटाखे है, जो परेड के दौरान छुटाए जा रहे हैं।”

मदुरो ने कहा कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। इसमें शामिल कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है और उनके आरोप तय किए गए हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि प्रशासन साक्ष्य जुटा रही है। यह मुझे मारने का प्रयास था। उन्होंने आज मेरी हत्या करने का प्रयास किया। वेनेजुएला के अटॉर्नी जनरल तारेक विलियम साब ने सीएनएन को बताया कि उन्होंने मामले की जांच के आदेश दिए हैं।

वेनेजुएला सरकार तख्तापलट के लिए लंबे समय से कोलंबिया बोगोटा और मियामी के चरमपंथी गुटों पर आरोप लगाती रही है। इवान डुक अगले सप्ताह कोलंबिया के राष्ट्रपति के रूप में पद्भार संभालेंगे। हालांकि, कोलंबिया सरकार ने इस हमले में किसी तरह की भागीदारी से इनकार किया है।

Related Articles