रानी लक्ष्मीबाई की 192वीं जयंती पर PM मोदी सहित दिग्गज नेताओं ने किया नमन

लक्ष्मीबाई की 192वीं जयंती पर मोदी सहित कई बड़े नेताओं ने किया नमन

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आजादी की पहली लड़ाई में अद्भुत पराक्रम का परिचय देने वाली वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई को उनकी जयंती पर नमन करते हुए कहा कि उनकी शौर्यगाथा देशवासियों के लिए हमेशा प्रेरणास्रोत बनी रहेगी।

लक्ष्मीबाई का जन्म

वीरांगना लक्ष्मीबाई की आज 192 वीं जयंती है। वीरांगना का जन्म 19 नवंबर 1828 को वाराणसी में हुआ था। मोदी ने वीरांगना लक्ष्मीबाई को जयंती पर स्मरण करते हुए लिखा, “आजादी की पहली लड़ाई में अद्भुत पराक्रम का परिचय देने वाली वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई को उनकी जयंती पर कोटि-कोटि नमन। उनकी शौर्यगाथा देशवासियों के लिए हमेशा प्रेरणास्रोत बनी रहेगी।”

मराठा राज्य की रानी

रानी लक्ष्मीबाई मराठा शासित झाँसी राज्य की रानी और 1857 की राज्यक्रांति की द्वितीय शहीद वीरांगना थीं। उन्होंने सिर्फ़ 29 साल की उम्र में अंग्रेज़ साम्राज्य की सेना से युद्ध किया और रणभूमि में वीरगति को प्राप्त हुईं।

योगी और अखिलेश ने किया वीरंगना को नमन

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की नायिका वीरंगना लक्ष्मीबाई को श्रद्धाजंलि अर्पित की।

भारत की नारी शक्ति के अदम्य साहस

सीएम योगी ने ट्वीट किया “भारत की नारी शक्ति के अदम्य साहस, अप्रतिम सामर्थ्य व अपरिमित त्याग की प्रतीक, शत्रुओं को “नाकों चने चबवाने” वाली अद्भुत वीरांगना, महारानी लक्ष्मीबाई जी की जयंती पर उनकी पुनीत स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन एवं प्रदेशवासियों को हृदय से बधाई व मंगलमय शुभकामनाएं।”

वीर-वनिता झाँसी की रानी थीं

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया “ नमन उन्हें जो वीर-वनिता झाँसी की रानी थीं, जो सच्ची राष्ट्रभक्त और सच्ची बलिदानी थीं। रानी लक्ष्मीबाई जयंती पर उनके अदम्य साहस को शौर्यपूर्ण नमन।”

यह भी पढ़े:कोरोना अपडेट: लगातार दूसरे दिन मरीजों में इजाफे से 90 लाख के करीब पहुंचा आंकड़ा

यह भी पढ़े:यूक्रेन राष्ट्रपति जेलेंस्की दूसरी बार कोरोना पॉजिटिव, कहा ‘अब बेहतर महसूस कर रहा’

Related Articles

Back to top button