कांग्रेस ने विहिप और बजरंग दल पर लगाया मंदसौर मामले में राजनीति खेलने का आरोप

0

भोपाल। मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में एक मासूम के साथ हुई दरिंदगी के बाद यहां सांप्रदायिक सद्भाव बिगड़ने लगा था। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने के प्रयास करने वालों की गिरफ्तारी की मांग की है।

राम जन्मभूमि विवाद: सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई 13 जुलाई…

सांप्रदायिक सद्भाव

अजय सिंह ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर कहा कि मंदसौर में सुनियोजित तरीके से सांप्रदायिक दंगे कराने और शहर के साथ प्रदेश का सद्भाव बिगाड़ने के प्रयास हुए।

इसके पीछे विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल के लोग थे। इन लोगों पर आपराधिक मामला दर्ज किया जाए और उन्हें तत्काल गिरफ्तार किया जाए।

जाकिर नाइक को लेकर मलेशिया ने भारत को दिया तगड़ा झटका……

उन्होंने कहा कि प्रदेश में चुनाव के ठीक पहले सद्भाव बिगाड़ने की यह साजिश थी, जिसे जिले के कलेक्टर और एसपी ने अपनी सूझबूझ से विफल कर दिया।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मंदसौर में एक नाबालिग के साथ दरिंदगी के बाद दरिंदगी की दूसरी घटना को अंजाम देने की तैयारी थी। एक दरिंदगी का बदला दूसरी दरिंदगी से लेने के लिए मंदसौर के विहिप कार्यालय में बैठक होना और उसमें बजरंग दल का शामिल होना खतरनाक संकेत देता है। यह प्रदेश में सद्भाव बिगाड़कर भाजपा को हिंदू वोट दिलाने की घिनौनी कोशिश की शुरुआत है।

उन्होंने कहा कि प्रशासन की सतर्कता और स्थानीय नागरिकों की सजगता ने विहिप और बजरंग दल के मंसूबों को पूरा नहीं होने दिया।

नेता प्रतिपक्ष ने पुलिस महानिदेशक से कहा है कि वे कलेक्टर और एसपी की रिपोर्ट पर तत्काल कार्यवाही करें। साथ ही विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल से जुड़े जिन लोगों के खिलाफ रिपोर्ट आई है, उन पर तत्काल दंगा भड़काने की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार करें, ताकि प्रदेश में सद्भाव को बिगाड़ने की कोई जुर्रत न करे, चाहे वह किसी भी धर्म का क्यों न हो।

loading...
शेयर करें