‘पद्मावत’ को लेकर प्रवीण तोगड़िया ने रची साजिश, ऑडियो वायरल

0

नई दिल्ली। संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत का विरोध हो रहा है। अब तक तो करणी सेना ही फिल्म का विरोध करती आई थी लेकिन एक ऑडियो वायरल होने के बाद पता चला है कि फिल्म का विरोध विश्व हिन्दू परिषद भी कर रही है। ये ऑडियो है पीएम वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया का

इस ऑडियो में तोगड़िया कह रहें हैं पद्मावत को रिलीज नहीं होने देंगे और शांति से विरोध करेंगे। पीएम मोदी पर आरोप लगाने के बाद वीएचपी में प्रवीण तोगड़िया इन दिनों अलग थलग चल रहे हैं। इस ऑडियो में प्रवीण तोगड़िया किसी से कह रहे हैं कि देश में ‘पद्मावत’ फिल्म हम रिलीज नहीं होने देंगे और वीएचपी, बजरंग दल के देश भर के कार्यकर्ताओं को लोकतांत्रिक तरीके से सड़कों पर उतरना चाहिए।  

वो आगे कहते हैं कि ये प्रश्न सिर्फ राजपूतों का नहीं है, हम सभी जाति के हिंदुओं के स्वाभिमान का है, क्योंकि जौहर में सभी जाति की महिलाओं ने भी बलिदान दिया था।  इसलिए ये हिंदुओं का प्रश्न है। मेरी केंद्र सरकार से मांग है कि पीएम नरेंद्र भाई मोदी हिंदुओं के स्वाभिमान के लिए जैसे जलीकट्टू में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ अध्यादेश निकाला था, वैसे सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ अध्यादेश लाकर पद्मावत की रिलीज रोकने का निर्णय करें।  अगर ऐसा नहीं होता है तो देश की संपूर्ण जनता 25 जनवरी को कर्फ्यू में भी शांतिमय तरीके से सहभागी हो और दूसरे दिन किसी भी कीमत पर फिल्म रिलीज न होने दे।

कौन हैं तोगड़िया

बता दें कि प्रवीण तोगड़िया विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष हैं। हाल ही में उन्होंने पीएम मोदी पर गंभीर आरोप लगाये थे। उन्होंने अंदेशा जताया था कि सरकार उनका एनकाउंटर भी करा सकती है।

पद्मावत को लेकर आज हाईकोर्ट में होगी सुनवाई

सर्वोच्च न्यायालय मंगलवार को मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकार की फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई करेगा। कलवी ने यह टिप्पणी उसी संदर्भ में की।

दोनों राज्यों के वकीलों ने अदालत के 18 जनवरी के फैसले के संदर्भ में संशोधन/स्पष्टीकरण की मांग करते हुए मामले की जल्द सुनवाई का आग्रह किया है। अदालत ने अपने फैसले में राजस्थान, गुजरात और हरियाणा सरकार द्वारा अपने राज्यों में फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की अधिसूचना/आदेश पर रोक लगा दी थी।

अदालत ने निर्देश दिया था कि कोई भी राज्य सरकार ऐसा कोई आदेश नहीं जारी करेगी जो संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ की 25 जनवरी की रिलीज में रोड़ा अटकाए।

राजस्थान और मध्य प्रदेश की सरकारों ने सिनेमेटोग्राफ एक्ट की सहायता लेते हुए सर्वोच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है, जिसके तहत राज्य में कानून-व्यवस्था के आधार पर फिल्म की रिलीज रोकी जा सकती है।

loading...
शेयर करें