उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी

वेंकैया नायडू ने यहां जारी एक संदेश में कहा कि महात्मा गांधी ने समाज के दुर्बल वर्गों के उत्थान के लिए अथक प्रयास किए।

नयी दिल्ली: उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू ( M. Venkaiah Naidu ) ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ( Mahatma Gandhi ) की पुण्यतिथि पर शनिवार को उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि वह पूरा जीवन समाज के पिछड़े और कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए प्रयासरत रहे।

वेंकैया नायडू ने यहां जारी एक संदेश में कहा कि महात्मा गांधी ने समाज के दुर्बल वर्गों के उत्थान के लिए अथक प्रयास किए। उनके सिद्धांत और जीवन आज भी अखिल विश्व के कल्याण का मार्ग दीप्त करते हैं। उन्हें याद करते हुए, उनका अनुसरण करने का भी संकल्प लेना चाहिए।

उपराष्ट्रपति ने कहा, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की पुण्यतिथि पर उनकी पावन स्मृति में सादर श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। नायडू ने कहा कि गांधी जी शांति, अहिंसा, नि:स्वार्थ सेवा के साधक थे। अपने वचन और कर्म से उन्होंने समय की रेत पर अपनी अमिट छाप छोड़ी, विश्व भर के कई लोगों को अहिंसा का मार्ग अपनाने के लिए प्रेरित किया।

उपराष्ट्रपति नायडू ने अपने संदेश में महात्मा गांधी के इस कथन का भी उल्लेख किया, अहिंसा ही सबसे बड़ा धर्म है। यदि हम इसका पूरी तरह से पालन न भी कर पाएं तो भी हमें इसकी भावना को समझना चाहिए और जहां तक संभव हो हिंसा का त्याग करना चाहिए।

यह भी पढ़े: Jaish-Ul-Hind ने ली Israel Embassy के पास हुए धमाके की ज़िम्मेदारी

Related Articles

Back to top button