अमित शाह का ऐलान: वेकैंया नायडू होंगे एनडीए के उपराष्‍ट्रपति पद के कैंडीडेट

0

नई दिल्ली। देश के नए राष्‍ट्रपति को लेकर जारी रस्‍साकसी सोमवार शाम पांच बजे खत्‍म हो गई। सभी सांसदों और विधायकों ने राष्‍ट्रपति चुनाव में वोटिंग की। रिजल्‍ट बीस को आएगा। वहीं अब सबकी नजरें उपराष्‍ट्रपति पद के चुनाव पर लग गई हैं। बीजेपी संसदीय दल की बैठक खत्‍म हो गई है। पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉफ्रेंस करके उपराष्‍ट्रपति पद के कैंडीडेट का ऐलान कर दिया है।

तरुण यादवउपराष्‍ट्रपति पद के चुनाव को लेकर बिछने लगी बिसात

बीजेपी के हेडर्क्‍वाटर में बीजेपी पार्लियामेंट्री बोर्ड की बैठक में पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, थावरचंद गहलोत, जेपी नड्डा, सुषमा स्वराज, वेंकैया नायडू और अरुण जेटली मौजूद थे।

venkaiah naiduवेंकैया नायडू का नाम लगभग तय:  सूत्र

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक उपराष्ट्रपति पद के लिए केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू का नाम लगभग तय हो गया है। पार्टी किसी दक्षिण भारतीय को अपना उम्मीदवार बनाने के मूड में है।

वेंकैया नायडू होंगे एनडीए के कैंडीडेट

उपराष्ट्रपति पद के लिए केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू का नाम फाइनल हो गया है। बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने ऐलान किया क‍ि शहरी विकास मंत्री वेंकैंया नायडू होंगे उपराष्‍ट्रपति पद के उम्‍मीदवार।

पीएम मोदी ने खुद फोन कर फैसला लेने को कहा: सूत्र

सूत्रों के मुताबिक खुद प्रधानमंत्री मोदी ने वैंकेया नायडू को फोन किया था। प्रधानमंत्री ने कहा कि वो नहीं चाहते हैं कि उनकी कैबिनेट का कोई साथी दूसरी जगह पर जाए। लेकिन कभी-कभी ऐसे फैसले करने पड़ते हैं। इसके बाद प्रधानमंत्री ने इस पर आखिरी फैसला लेने का अधिकार वैंकेया नायडू पर ही छोड़ दिया। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी वैंकेया नायडू से बात कर आखिरी फैसला लेने को कहा।

 

कौन हैं वेंकैया नायडू?

वेंकैया नायडू मोदी सरकार के सबसे वरिष्ठ मंत्रियों में से एक हैं और वो दक्षिण भारत के सबसे पुराने बीजेपी नेताओं में से एक हैं। इसके अलावा वो 2002 से 2004 तक बीजेपी अध्यक्ष भी थे। आंध्रप्रदेश के नेल्लोर जिला के रहनेवाले वेंकैया नायडू बीजेपी में शामिल होने से पहले 70 के दशक में आरएसएस और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में उल्लेखनीय योगदान दे चुके हैं।

पांच अगस्त को होगी उपराष्ट्पति पद के लिए वोटिंग

उपराष्‍ट्रपति पद के चुनाव के लिए तैयारी शुरू हो गई हैं। मतदान पांच अगस्त को होंगे। इस पद के लिए नामांकन पत्र भरने की अंतिम तिथि 18 जुलाई है। उपराष्ट्रपति पद के लिए निर्वाचक कालेज में 790 सदस्य हैं जिसमें लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य शामिल हैं। सत्तारूढ़ गठबंधन को निर्वाचक कालेज में जबर्दस्त बहुमत हासिल है।

loading...
शेयर करें