विजय दिवस: ऐतिहासिक जीत के 50 साल पूरे होने पर शहीदों को किया गया याद

नई दिल्ली: 1971 की लड़ाई में पाकिस्तान पर निर्णायक और ऐतिहासिक जीत के 50 साल पूरे हो गए हैं। देश में इस जीत के उपलक्ष में आज से स्वर्णिम विजय साल मनाया जा रहा है। इस दौरान पूरे देश में साल भर तक अलग अलग जगहों पर विजय समारोह का आयोजन किया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि

ऐतिहासिक जीत के 50 साल पूरे होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युद्ध स्मारक जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की और युद्ध स्मारक की अमर जवान ज्योति से चार स्वर्णिम विजय मशाल प्रज्वलित की। इन मशालों को सेना के विशेष वाहनों में देश के विभिन्न हिस्सों विशेष रुप से महावीर चक्र और परमवीर चक्र से सम्मानित सेना के रणबांकुरों के गांव और उन जगहों पर ले जाया जाएगा जहां पाकिस्तानी सेना के साथ लड़ाई हुई थी। युद्ध स्थलों, शहीदों के और शौर्य चक्र विजेताओं के गांव की मिट्टी भी राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर लाई जाएगी।

राजनाथ ने शहीदों को किया नमन

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान से युद्ध में शहीद हुए सैनिकों नमन किया। राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर लिखा, ‘आज विजय दिवस के अवसर मैं भारतीय सेना के शौर्य और पराक्रम की परम्परा को नमन करता हूं। मैं स्मरण करता हूं उन जांबाज सैनिकों की बहादुरी को जिन्होंने 1971 के युद्ध में एक नई शौर्यगाथा लिखी। उनका त्याग और बलिदान सभी भारतीयों के लिए प्रेरणा का स्रोत है। यह देश उन्हें हमेशा याद रखेगा।’

यह भी पढ़ें: जनगणना के मुताबिक सिर्फ इतने करोड़ है विश्व महाशक्ति देश अमेरिका की आबादी

Related Articles