मशहूर शायर आलोक यादव की ग़ज़ल का विडियो जारी 

आलोक यादव की गजल “फिर आने का वादा करके पतझर में” का यूट्यूब समेत संगीत के तमाम डिजिटल प्लेट्फार्म एपल म्यूजिक , स्पोटिफाई, अमेजन म्यूजिक , विंक, जियोसावन , रेसो , गाना और हंगामा पर जारी किया गया।

नयी दिल्ली: जाने माने शायर और क्षेत्रीय भविष्य निधि आयुक्त (दिल्ली मध्य) आलोक यादव की गजल “फिर आने का वादा करके पतझर में” का वीडियो शुक्रवार को यूट्यूब समेत संगीत के तमाम डिजिटल प्लेट्फार्म एपल म्यूजिक, स्पोटिफाई, अमेजन म्यूजिक , विंक, जियोसावन , रेसो , गाना और हंगामा पर जारी किया गया।

हिज्र ( विरह ) के भाव से ओत-प्रोत इस गजल को सुप्रसिद्ध बॉलीवुड और सूफी गायिका कविता सेठ ने स्वरबद्ध किया है। कविता ने इस अवसर पर कहा, “ आलोक यादव की यह गजल हृदयस्पर्शी है और बहुत अच्छी है तथा उन्हें विश्वास है कि यह वीडियो उनके प्रशंसकों को पसंद आयेगा और गजल के चाहने वालों के लिए यह संग्रहणीय प्रस्तुति होगी।” उन्होंने कहा कि भविष्य में वह आलोक यादव की और गजलें गा सकती हैं।

गजल को संगीतबद्ध करने वाली संगीतकार जोड़ी ज्ञानदीप एवं रौनी ने कहा कि इसे कोम्पोज़ करने का अनुभव बेहतरीन रहा। गजल का वीडियो रवि पिक्चर्स मुंबई ने बनाया है। आलोक यादव की गजलें रेख्ता और कविताकोश जैसी वेबसाइट्स पर भी पढ़ी जा सकती हैं। उनकी गजलों की एक किताब “ उसी के नाम “ का प्रकाशन 2016 में हुआ था जिसके अब तक दो संस्करण आ चुके हैं।

इसे भी पढ़े: अब भारत में भी बनेगी रूसी कोरोना वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक

Related Articles