वन मंत्री के डिनर का न्यौता ठुकराना विद्या बालन को पड़ा भरी, रुक गई फिल्म की शूटिंग

फिल्म अभिनेत्री विद्या बालन द्वारा राज्य के एक मंत्री के 'डिनर' के प्रस्ताव को नकारने के बाद बालाघाट जिले के वन क्षेत्र में विद्या बालन की फिल्म की शूटिंग में व्यवधान उत्पन्न करने संबंधी मीडिया में आयी खबरों के परिप्रेक्ष्य में यह मांग की है।

भोपाल: मध्यप्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने आज कहा कि मुख्यमंत्री को अपने मंत्रियों को संयमित व्यवहार करने की नसीहत देना चाहिए। भूपेंद्र गुप्ता ने यहां एक विज्ञप्ति में कथित तौर पर प्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री विद्या बालन द्वारा राज्य के एक मंत्री के ‘डिनर’ के प्रस्ताव को नकारने के बाद बालाघाट जिले के वन क्षेत्र में विद्या बालन की फिल्म की शूटिंग में व्यवधान उत्पन्न करने संबंधी मीडिया में आयी खबरों के परिप्रेक्ष्य में यह मांग की है।

भूपेंद्र गुप्ता ने कहा कि यह हैरानी की बात है कि अभिनेत्री विद्या बालन द्वारा एक वन मंत्री के डिनर प्रस्ताव को अस्वीकार कर देने के कारण उनकी शूटिंग में बाधाएं उपस्थित की गईं। इस कार्य से मध्यप्रदेश की बदनामी हुई है। उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि वे ऐसे मंत्रियों को संयम की सीख दें, जो अपनी इच्छाओं को व्यक्त करने में अत्यंत अधीर होते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में विद्या बालन जैसी कलाकार के साथ किए गए इस व्यवहार से पूरे मध्यप्रदेश की प्रतिष्ठा धूमिल हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य में यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि भविष्य में इस तरह की घटना नहीं हो।

ये भी पढ़े : बजट का शीघ्र उपयोग करें, लापरवाही बर्दाशत नहीं: कमल पटेल

खबरों के अनुसार विद्या बालन

मीडिया में आयी खबरों के अनुसार विद्या बालन इन दिनों बालाघाट जिले के वन क्षेत्रों में एक फिल्म की शूटिंग में व्यस्त हैं। कथित तौर पर हाल ही में एक मंत्री ने अभिनेत्री से मुलाकात की और इसी दौरान उन्होंने अभिनेत्री के समक्ष उनके साथ डिनर करने की इच्छा जाहिर की। अभिनेत्री द्वारा इससे इंकार करने पर अगले दिन फिल्म की शूटिंग में व्यस्त टीम को संबंधित वन क्षेत्र में जाने से यह कहते हुए रोक दिया गया कि वन क्षेत्र में सिर्फ दो वाहनों के जाने की इजाजत है। मामले के तूल पकड़ने पर राज्य सरकार भी सक्रिय हुयी और फिल्म की शूटिंग में आए व्यवधान को दूर कराया गया।

Related Articles