विकास दुबे पार्ट-2: पुलिस पर हमला करने वाला मुख्य आरोपी का भाई ढेर

कासगंज: उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में विकास दुबे जैसे एक कांड का मामला सामने आया है। जहां देर रात शराब माफिया के घर पुलिस की टीम छापेमारी करने गई थी। जिसकी सूचना पर शराब माफियाओं ने पुलिस की टीम पर हमला कर दिया। जिसमें माफियाओं ने एक सिपाही की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी। जिसके बाद इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। हालांकि पुलिस ने सुबह मुख्य आरोपी के भाई को मुठभेड़ में ढेर कर दिया है।

मुठभेड़ में एक ढेर

कासगंज जिले के सिढ़पुरा क्षेत्र में पुलिस टीम पर हमला कर सिपाही की हत्या करने वाला एक आरोपी फरार हो गया था। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों की तलाश में खोजबीन शुरु कर दी। जिसमें 10 फरवरी की सुबह मुख्य आरोपी मोती धीवर का भाई एलकार धीमर मुठभेड़ में मारा गया है। आरोपी के पास से एक तमंचा और कुछ कारतूस मिले हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस की मुठभेड़ में जो आरोपी मारा गया है उसपर हत्या समेत पांच मामले दर्ज हैं। वहीं मुख्य आरोपी मोती धीवर पर 12 मामले दर्ज हैं। इसकी तलाश में पुलिस की 12 टीमें लगाई गई हैं।

मुख्यमंत्री ने लिया मामले का संज्ञान

घटना को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोपियों पर रासुका लगाने के निर्देश दिए हैं। हमले में मारे गए कांस्टेबल देवेंद्र कुमार के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक साहयता और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें: कासगंज: सिपाही की मौत से सीएम योगी नाराज, रासुका लगाने का दिया आदेश

Related Articles

Back to top button