IPL
IPL

Mukhtar का खत्म हुआ इंतजार, बांदा जेल की चार दीवारों में कैद हुआ माफिया

लखनऊ: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के पर उत्तर प्रदेश सरकार को बड़ी सफलता हाथ लगी है। मुख्तार (Mukhtar) को पंजाब से यूपी लाने की सभी कोशिश योगी सरकार की नाकाम हो चुकी थी। बुधवार की भोर करीब पौने चार बजे मुख्तार अंसारी (Mukhtar) का काफिला बांदा जिले में पहुंच गया था। कोर्ट के आदेश पर देश में आतंक मचाने वाला बाहुबली मुख़्तार अंसारी यूपी के बांदा जेल की चार दीवारों में कैद कर दिया गया है।

मंगलवार को यूपी पुलिस मुख्तार अंसारी को पंजाब की रोपड़ जेल से लेकर पूरी सुरक्षा के साथ लाकर बुधवार सुबह लगभग चार बजकर 45 मिनट पर बांदा जेल में बंद किया गया है। बताया जा रहा है मुख्तार अंसारी की एम्ब्युलेन्स के साथ जेल में सिर्फ 2 गाड़ियां ही दाखिल हुई हैं। मुख्तार को 15 नंबर बैरक में ही रखा जाएगा जिसमें वो रोपड़ जेल जाने से पहले रहता था। मगर इस बार इस बैरक में बड़े बदलाव किये गए हैं। उसके साथ कोई भी कैदी नहीं रहेगा और बैरक को सीसी कमेरों से लैस किया गया है।

मुख्‍तार पहुंचा जेल

बांदा कारागार की दीवारे मुख्‍तार का इंतजार खत्म हो चुका है। पंजाब की रोपड़ जेल से आ रही पुलिस के काफिले के कई वीडियो सामने आये है। एक वीडियो और वायरल हो रहा है जो आगरा का बताया जा रहा है। छह घंटे चलने के बाद ये काफिला थोड़ी देर के लिए जेवर पेट्रोल पंप पर रुका था। जेवर पेट्रोल पंप पर सभी गाड़ियों में फ्यूल भरवाया गया। काफिले के रुकते ही पुलिसवाले बंदूकें तानकर मुख्‍तार की एंबुलेंस को चारों तरफ से घेर कर खड़े हो गए थे।

इससे पहले यूपी की सीमा में बागपत जिले से घुसते ही पुलिस का काफिला और बढ़ गया इसमें कई गाड़ियां इस काफिले में शामिल हुई। उधर अपर मुख्‍य सचिव अवनीश अवस्‍थी और डीजीपी हितेश अवस्‍थी ने आदेश दिया है कि मुख्तार को लेकर आ रही है यूपी पुलिस का काफिला जिस जिले से गुजरेगा उस जिले की पुलिस उस काफिले को एस्‍कोर्ट करेगी।

ये भी पढ़ें : आइसलैंड में फटा Volcano, निकलने लगा लावा, बहने लगा आग का दरिया

देखें रास्ते की जानकारी

बुधवार भोर में कबीर पौने तीन बजे कानपुर के घाटमपुर से मुख्तार अंसारी को ले जा रही यूपी पुलिस का काफिला NH-34 में हमीरपुर जिले की तरफ मुड़ा था। इसके बाद ये काफिला नेशनल हाइवे से हमीरपुर होते हुए सुमेरपुर कस्बे से बांदा के लिए निकला था। फिर ये काफिला सजेती टोल नाका क्रॉस कर चुका।करीब तीन बजे के बाद पुलिस टीम NH-34 पर पहुंची। इस इलाके से बांदा 83 किमी दूर था। ये सफर करीब 2 घंटे में का बताया जा रहा था।

इसके बाद ये काफिला घाटमपुर से हमीरपुर की तरफ मुड़ा था। पौने चार बजे के करीब पुलिस का काफिला बांदा जिले में पहुंच गया था, यहां से जिला मुख्यालय अब 54 किमी दूर बचा था। सुबह तीन बजकर बाइस मिनट पर ये काफिला भरुआ सुमेरपुर से बांदा सड़क की तरफ मुड़ा। बांदा के बबेरू थाने की पुलिस ने एस्कॉर्ट किया। जेल के बाहर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई।

ये भी पढ़ें : गोरिल्ला के साथ Shraddha Kapoor ने किया डांस, गोरिल्ला का देखने मजेदार ठुमका

Related Articles

Back to top button