इस्लाम छोड़ हिन्दू बने वसीम रिजवी, डासना देवी मंदिर में किया धर्म परिवर्तन

यूपी: UP शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने आज इस्लाम धर्म को छोड़कर सनातन धर्म गअपना लिया है किया, जिसके बाद उनका नया नाम अब जीतेंद्र नारायण सिंह त्यागी हो गया है। गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर में आयोजित समारोह में उनका धर्म परिवर्तन हुआ। इस दौरान उनका शुद्धिकरण भी किया गया, इसके बाद उनको नया नाम भी दिया गया। बहुत से विवादों में घिरे रहने वाले वसीम रिजवी के धर्म परिवर्तन को लेकर मंदिर में कई धार्मिक अनुष्ठान भी किए गए। आपको बता दे की उन्होंने इससे कुछ दिन पहले मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की थी। डासना मंदिर के पीठाधीश्वर यति चेतनानंद सरस्वती ने उनका धर्म परिवर्तन कराया है।

हिंदू बनने के बाद क्या बोले जीतेंद्र नारायण सिंह ?

हिंदू धर्म अपनाने के बाद रिजवी ने कहा, “मुगलों ने हमेशा परंपरा दी हिंदुओं को हराओ। जो पार्टी हिंदुओं को हराती है मुसलमान एकजुट होकर उसे वोट करते हैं। मुसलमान सिर्फ और सिर्फ हिंदुओं को हराने के लिए वोट करता है।”उन्होंने कहा, “मुझे इस्लाम से बाहर कर दिया गया है, हमारे सिर पर हर शुक्रवार को ईनाम बढ़ा दिया जाता है, आज मैं सनातन धर्म अपना रहा हूँ।”

यह भी पढ़ें: Farmers protest: SKM की अहम बैठक कल, दिल्ली के सिंघू बॉर्डर से भीड़ होने लगी कम

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles