सिंधिया के खिलाफ हमने अपशब्द नहीं कहे, वह असत्य बोले रहे हैं: कमलनाथ

कमलनाथ ने चुनावी सभा के बाद पत्रकारों से चर्चा में कहा कि सिंधिया उन पर अपशब्द कहने का आरोप लगा रहे हैं, लेकिन मैने कभी उनके खिलाफ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं किया, वह सिंधिया असत्य बोल रहे हैं.

ग्वालियर: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के खुद को अपशब्द कहने वाले बयान पर पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज कहा कि उन्होंने सिंधिया के खिलाफ अपशब्द नहीं कहे, वह असत्य बोल रहे हैं.

कमलनाथ ने चुनावी सभा के बाद पत्रकारों से चर्चा में कहा कि सिंधिया उन पर अपशब्द कहने का आरोप लगा रहे हैं, लेकिन मैने कभी उनके खिलाफ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं किया, वह सिंधिया असत्य बोल रहे हैं. जिस अशोकनगर की सभा को लेकर वह अपशब्द कहने का आरोप लगा रहे हैं. उस सभा में जनता और मीडिया भी मौजूद थी, वह स्वयं बता देगी की मैंने यह कहा है कि नहीं.

40 वर्षों से कर रहा हूँ राजनीति: कमलनाथ

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में राजनीति का स्तर ऐसा हो जायेगा कभी सोचा भी नहीं था. उन्होंने कहा कि डबरा की सभा में ‘आइटम’ शब्द का उपयोग किया, जिस पर सामने वाले को बुरा लगा और इस पर हमने खेद भी व्यक्त किया, लेकिन भाजपा के नेता जानबूझ कर इस पर बखेड़ा खडा कर दिया. उन्होंने कहा कि वह स्वयं 40 वर्षों से राजनीति कर रहे है कई चुनाव लडे और लडाये हैं, लेकिन इस तरह की राजनीति कभी नहीं देखी.

उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता उनसे 15 महीने का हिसाब मांग रहे हैं, लेकिन वह जनता को 15 वर्षो का हिसाब क्यों नहीं दे रहे. उन्होंने कहा कि हमने किसानों का कर्जा माफ किया, जनता को सौ रूपये में सौ यूनिट बिजली दी. इस पर भी भाजपा नेता उन्हें अपशब्द कह रहे हैं. उन्होंने कहा कि मतदाता को समझ आ गया है कि यह उपचुनाव क्यो हो रहे है, आने वाली दस तारीख काे दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा.

यह भी पढ़े: पद्मश्री मास्टर चंदगी राम के जन्मदिन पर होगा हरियाणा खेल एवं सांस्कृतिक महोत्सव

Related Articles

Back to top button