ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर टिम पेन ने विराट को लेकर कहा ‘उनसे नफरत भी है और प्यार भी’

भारतीय टीम दो महीने से अधिक समय के लम्बे दौरे के लिए ऑस्ट्रेलिया पहुंच चुकी है और इस समय क्वारंटीन में है। भारत को इस दौरे में तीन वनडे, तीन टी-20 और चार टेस्ट खेलने हैं।

सिडनी: ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिम पेन ने कहा है कि हम भारतीय कप्तान विराट कोहली से नफरत करना भी पसंद करते हैं और क्रिकेट प्रशंसक के तौर पर हम उन्हें बल्लेबाजी करते देखना भी पसंद करते हैं।

भारतीय टीम दो महीने से अधिक समय के लम्बे दौरे के लिए ऑस्ट्रेलिया पहुंच चुकी है और इस समय क्वारंटीन में है। भारत को इस दौरे में तीन वनडे, तीन टी-20 और चार टेस्ट खेलने हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों ने सीरीज से पहले ही बयानबाजी कर भारतीय खिलाड़ियों पर दबाव बनाने का सिलसिला शुरू कर दिया है।

टिम पेन  बोले ‘विराट मेरे लिए एक अन्य खिलाड़ी की तरह हैं’

पेन ने एबीसी स्पोर्ट्स से बातचीत में कहा, ‘‘विराट मेरे लिए एक अन्य खिलाड़ी की तरह हैं और मुझे उनसे कोई परेशानी नहीं है। सच बताऊं तो उनसे मेरे कोई खास रिश्ते नहीं हैं, मैं उनको टॉस के समय पर देखता हूं और उनके खिलाफ खेलता हूं, महज इतना ही है।’’

बतौर क्रिकेट फैन हमें विराट को बल्लेबाजी देखना पसंद

उन्होंने कहा,‘‘लेकिन बतौर क्रिकेट फैन हमें विराट को बल्लेबाजी करते देखना पसंद है। उनको बल्लेबाजी करते हुए देखना हमें बहुत अच्छा लगता है, लेकिन हमें यह पसंद नहीं है कि वो बहुत अधिक रन बनाए।’’ विराट हालांकि इस बार पहले टेस्ट के बाद स्वदेश लौट जाएंगे क्योंकि उनकी पत्नी साल के शुरू में अपनी पहली संतान को जन्म देने वाली है।

हमारे बीच शब्दों की जंग भी हुई है : टिम पेन

टिम पेन ने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच कड़ा मुकाबला होगा। विराट निश्चित तौर पर जबरदस्त प्रतियोगी हैं और मैं भी वैसा ही हूं। कई बार हमारे बीच शब्दों की जंग भी हुई है। इसलिए नहीं कि हम दोनों अपनी टीमों के कप्तान हैं। वह इससे इतर भी हो सकती थी।’’

गौरतलब है कि विराट ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2012 में एडिलेड में ही अपना पहला शतक बनाया था। उन्होंने 2014 के दौरे पर चार मैचों की सीरीज में 692 रन बनाए थे जिसमें चार शतक शामिल थे।

ईमानदारी से कहूं तो यह बड़ा मुकाबला होगा

टिम पेन ने कहा, ‘‘ मैं ईमानदारी से कहूं तो यह बड़ा मुकाबला होगा। पिछली बार उन्होंने हमें यहां टेस्ट सीरीज में हराया था। आपको बतौर खिलाड़ी खुद को इस सीरीज में टेस्ट करना होगा।’’

27 नवंबर से शुरू हो रही एकदिवसीय सीरीज के बाद दोनों टीमों के बीच टी-२० सीरीज होगी और फिर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तहत चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी।

ये भी पढ़ें : ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज सीन एबॉट ने कहा, ‘मुझे हारना पसंद नहीं है’

Related Articles

Back to top button