साइबर ठगों का जाल, लड़कियां कर रही हैं वीडियों कॉल

‘आपत्तिजनक बातों की रिकार्डिंग वायरल करने के नाम पर लोगों को ब्लैकमेल करने कि धमकी देती है’।

नई दिल्ली: साइबर क्राइम देश में आए दिन बढ़ता हि जा रहा है। फोन पर कॉल कर ओटीपी हासिल करके क्रेडिट या डेबिट कार्ड के जरिये ‘ऑनलाइन ठगी’ को लेकर लोग सतर्क हुए तो अब साइबर ठगों का परवान सर चढ़कर बोल रहा है। यह ठगी करने का दूसरा तरीका  है।

मैंसेजर बना धोखे का जाल

फेसबुक मैंसेजर के जरिये लड़कियां लोगों को कॉल करके धोखे के जाल में फंसाती हैं, फिर वीडियो कॉल के जरिये ‘आपत्तिजनक बातों की रिकार्डिंग वायरल करने के नाम पर लोगों को ब्लैकमेल करने कि धमकी देती है’। इस चक्कर में बहुत लोग अब फंस चुके हैं। कुछ लोगों ने इसकी शिकायत साइबर सेल में दर्ज की है।

दोस्ती के नाम पर नजदीकियां

पुलिस कार्यालय स्थित साइबर सेल में रोजाना चार से पांच लोग फेसबुक मैसेंजर की शिकायतें लेकर पहुंच रहे हैं। पीड़ितों का कहना है कि उन्हें युवतियों के नाम से फ्रेंड रिकवेस्ट आई थी। रिक्वेस्ट स्वीकार करने के बाद युवतियां मैसेज करती हैं। दोस्ती करने की बात कहकर नजदीकियां बढ़ाती हैं। फिर फेसबुक मैसेंजर पर वीडियो कॉल करती हैं और इसी दौरान ‘आपत्तिजनक बातें’ करती हैं।

वीडियो वायरल करने की धमकी

कॉल करने के बाद युवती उनकी वीडियो को वापस भेजकर सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देती हैं। वीडियो वायरल नहीं करने के एवज में ठग मुंह मांगे रुपयों की मांग करते हैं। साइबर सेल प्रभारी ने लोगों से अनजान लोगों की फ्रेंड रिकवेस्ट को स्वीकार न करने और वीडियो कॉल करने वाली अनजान लड़कियों से दूर रहने को कहा है।

यह भी पढ़े:देश में कोरोना की जांच का आंकड़ा ‘साढ़े दस’ करोड़ के पार

यह भी पढ़े:संसद में फ्रांस के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने पर पाकिस्तान का जमकर उड़ा मजाक

 

Related Articles

Back to top button