West Bengal Election: दूसरे चरण से पहले चुनाव आयोग ने दी चेतावनी

कोलकाता: पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) में पहले चरण के मतदान के दौरान हुए बवाल को लेकर चुनाव आयोग ( Eelection Commission ) ने चेतावनी जारी की है। दूसरे चरण के मतदान से पहले चुनाव आयोग ने चेतावनी ( Warning ) जारी करते हुए कहा है कि चुनाव ( Eelection ) के दौरान किसी भी तरह की कोई हिंसक वारदात बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

दूसरे चरण से पहले आयोग की चेतावनी

पश्चिम बंगाल ( West Bengal ) में एक अप्रैल को होने वाले दूसरे चरण के मतदान से पहले चुनाव आयोग ने दंगा करने वालों लोगों को सख्त चेतावनी दी है। वहीं आयोग ने दूसरे चरण के मतदान से पहले बदमाशों की ओर से किए जाने वाले किसी तरह के हमले के समय सुरक्षा के लिए कार्रवाई करने को लेकर भारी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी है।

नंदीग्राम पर टिकी सभी की नजरें

दूसरे चरण में दक्षिण 24 परगना, पश्चिमी-पूर्वी मेदिनीपुर और दक्षिण 24 परगना जिलों की 30 सीटों के लिए मतदान होगा। इनमें से नंदीग्राम सीट पर सभी की नजरें टिकी हैं। यहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और उनके सहयोगी रहे भारतीय जनता पार्टी (BJP) के टिकट से चुनाव लड़ रहे शुवेन्दु अधिकारी ( Suvendu Adhikari ) आमने-सामने हैं। बता दें कि चुनाव आयोग की यह नई चेतावनी पूर्वी मेदिनीपुर जिले के अरवालम गांव में सुरक्षा बलों पर पहले चरण के मतदान के दिन बम से किए गए हमले के मद्देनजर आई है।

मतदान स्थलों पर बढ़ाई गई सुरक्षा

बताया जा रहा है कि अगर ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है तो चुनाव ड्यूटी में लगे जवान हमलावरों को खदेड़ने के लिए हथियारों का इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं दूसरे चरण के चुनावों के लिए संबंधित चारों जिलों में केन्द्रीय बलों की 651 कम्पनी तैनात की गई हैं। वहीं नंदीग्राम ( Nandigram ) विधानसभा क्षेत्र में प्रशासन ने केन्द्रीय सुरक्षा बल ( Central Security Force ) की 21 कंपनियां तैनात की हैं।

ये भी पढ़ें: Tamil Nadu: PM मोदी ने कहा, ‘कृपया अपनी पार्टी के नेताओं को काबू में रखो’

Related Articles

Back to top button