वेस्टर्न और सेंट्रल रेलवे ने उठाया कदम, बढ़ाया प्लेटफॉर्म टिकट का दाम

कोरोना वायरस के बढ़ते कहर को देखते हुए रेलवे स्टेशनों पर कम भीड़ रखने के लिए देश की कुछ जगहों पर प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ा दिए गए हैं. पहले प्लेटफॉर्म टिकट का दाम 10 रुपये था, जो अब 50 रुपये हो गया है. यह कदम वेस्टर्न और सेंट्रल रेलवे की ओर से उठाया गया है. महंगे प्लेटफॉर्म टिकट की वजह से रेलवे स्टेशनों पर लोग कम रहेंगे. प्लेटफॉर्म टिकट रेल यात्रियों को छोड़ने आने वाले लोगों को रेलवे स्टेशन प्लेटफॉर्म पर जाने के लिए जारी किया जाता है.

वेस्टर्न रेलवे के अहमदाबाद डिवीजन ने सोमवार शाम को इस बारे में सर्कुलर जारी किया. अहमदाबाद मंडल के तहत यह बढ़ोत्तरी अहमदाबाद, गांधीधाम, पालनपुर, भुज, महसाणा, विरामगाम, मणिनगर, समाख्याली, पाटन, उंझा, सिद्धपुर और साबरमती रेलवे स्टेशनों पर लागू होगी. इसके अलावा रतलाम रेल मंडल ने भी अपने सभी स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म‍ टिकट 50 रुपये का कर दिया है. 17 मार्च से मंडल के 139 रेलवे स्टेशनों पर यह व्यवस्था लागू हो जाएगी.

वहीं सेंट्रल रेलवे ने मुंबई, पुणे, नागपुर, भुसावल और सोलापुर डिवीजन्स में आने वाले रेलवे स्टेशनों के लिए प्लेटफॉर्म टिकट के बाद बढ़ा दिए हें.

देश में अब तक जानलेवा वायरस कोरोना से संक्रमित 126 मामले सामने आए हैं. इनमें से तीन लोगों की मौत हो चुकी है. भारतीय रेलवे की ओर से ट्रेनों में साफ-सफाई और स्वच्छता को लेकर व्यापक रूप से कदम उठाए जा रहे हैं. हाथों के डायरेक्ट कॉन्टैक्ट में आने वाली चीजों जैसे ट्रेन के दरवाजों, हैंडल, बुकिंग काउंटर्स आदि को नियमित रूप से सैनेटाइज किया जा रहा है.

वेस्टर्न और साउदर्न रेलवे ने यात्रियों को कंबल की सप्लाई देना रोक दिया है और एसी कोच के सभी क्लासेज में से पर्दे हटाना भी शुरू कर दिया है. यात्रियों से सहयोग करने और अपने कंबल साथ लाने का आग्रह किया गया है.

Related Articles