ओमिक्रॉन को लेकर WFH कंपनियों ने किया लागू, आदेश जारी

आइटीटेलीकॉम कंपनियों को रास आ गया WFH फार्मूला

कोरोना काल में वर्क फ्रॉम होम (डब्ल्यूएफएच) फार्मूले पर परिवर्तित कर गई आइटीटेलीकॉम कंपनियों को यह फार्मूला रास आ गया. देश की नामचीन आइटी कंपनियों ने मौजूदा परिस्थितियों को आकलन कर निर्णय लिया, और डब्ल्यूएफएच फार्मूले पर ही काम जारी रखने की घोषणा की है. इसके पीछे कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के बढ़ते मामले भी अहम कारण हैं.

स्वास्थ्य को लेकर अलर्ट कंपनियां

वर्क फ्राम होम को कंपनियों ने अपने अपने अनुसार तय किया है, मगर माना जा रहा है अभी यह व्यवस्था आगे भी बरकरार रहेगी. इसके पीछे कंपनियों का मकसद अपने इम्प्लाइज को ओमिक्रोन के किसी भी संभावित खतरे से बचाने, स्वास्थ्य माहौल मुहैया कराने के साथ ही कास्ट रिड्यूस करना भी है.

कंपनियों को मिल रहा ये लाभ

कोरोना के नए वैरिएंट से संभावित संक्रमण से बचाव के लिए सार्थक विकल्प
इम्प्लाइज से मिल रही अधिक प्रोडक्टिविटी
कंपनी के लिए इम्प्लाइज की अधिक समय के लिए उपलब्धता
परिवार के साथ रहकर काम करने से इम्प्लाइज में रहता है अधिक उत्साह
आफिस बुलाने पर इम्प्लाइज पर आने वाले खर्च की बचत
इम्प्लाइज को अबतक उपलब्ध कराए जा रहे इंफ्रा का दूसरे कामों में इस्तेमाल

यह भी पढ़ें- सियासत का केंद्र बिंदु बने कानपुर को PM देंगे ये तोहफा, पढ़िए ये खबर

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles