क्या Crypto है डिजिटल की सबसे बड़ी ठगी? पढ़िए कहां Investment करना रहेगा सही

नई दिल्ली: क्रिप्टो करेंसी, बिट कॉइन, Dogecoin, ये कॉइन, वो कॉइन, कौन सा कॉइन, कहा पर है ये कॉइन, आपके मन में ये सारे सवाल पिछले 4-5 दिनों से घूम रहे हैं. लेकिन आप थोडा सोचिये आपने जबसे होश संभाला है तबसे एक चीज़ जो रोज़ आपके दिमाक में आती है वो क्या है?? ताते हैं पहले थोड़ी इधर-उधर और अन्दर की बात हो जाये. अन्दर की बात ये है कि Crypto Currency जिसका नाम आपके दिमक में घूम रहा है वो कईयों को करोडपति पहले बना चुकी है. पर बीते 3 दिनों में कई लोग इससे सड़क पर आ गए हैं. ऐसा कहा जाता है. जेसे डिजिटल जगत में कहने के लिए ये करेंसी है.

पहले आपको बताते हैं क्या है क्रिप्टोकरेंसी?

क्रिप्टो करेंसी एक ऐसी मुद्रा है जो डिजिटल रूप है. यह किसी Coin या नोट की तरह Solid Form में आपकी जेब में नहीं होती. यह पूरी तरह से ऑनलाइन होती है और व्यापार के रूप में बिना किसी Rules के इसके ज़रिए बिजनेस होता है. इसको कोई सरकार या कोई अथॉरिटी जारी नहीं करती है. ये पूरी तरह से डिजिटल और Online है.

हाँ तो अभी जो बोला था होश संभालने के बाद एक चीज़ जो रोज़ आपके दिमाक में आती है वो क्या है? वो हैं भगवान, गॉड. जेसे उन्हें हमने नहीं dekha और उनपर विश्वास है vese hi ये Crypto Currency जिसे देख nai सकते पर विश्वास कर सकते हैं. विश्वास के लिए मूर्ति के रूप में हमारे सामने है Bitcoin और altcoins. अभी तक Bitcoin चर्चा में था पर एलोन मास्क के एक video मेसेज के बाद Dogecoin चर्चा में आया गया. ये altcoin का hi हिस्सा है. इसके जारी होते ही Bitcoin धडाम से नीचे आ गया.

आपको बताते कैसे होता है Crypto Currency से व्यापार

भारतीय मार्केट में RBI के निर्देश के बाद बैंकों द्वारा Crypto Currency में सीधे इन्वेस्टमेंट करने पर रोक है. ऐसे में पीछे से UPI का रास्ता है जो अभी तक भारतीय प्रयोग कर रहे थे. तमाम विदेशी इन्वेस्टमेंट कम्पनीज हैं जो डिजिटल रूप में इसमें इन्वेस्ट कराती हैं. डिजिटल करेंसी में इन्वेस्ट करने के लिए Currency Conversion की सुविधा भी इन मोबाइल एप्लीकेशंस पर मौजूद हैं. ऐसे में अभी तक लोग इसके जरिये Crypto Currency में इन्वेस्टमेंट कर रहे थे.

कैसे और कब हुए लोग ठगी का शिकार

एक खूबसूरत महिला ने विश्व भर में क्रिप्टो लूट को अंजाम दिया. इस ‘क्रिप्टो क्वीन’ का नाम है Ruja Ignatova था इनका Birth Place बुल्गारिया के सोफिया में था, पर ये बाद में जर्मनी आ गईं. डॉक्टरेट की उपाधि रखने वाली खूबसूरत ruja ने 2014 में ‘वनकॉइन’ की शुरुआत की ये एक Crypto Currency थी. उस वक्त लोग Bitcoin में इन्वेस्टमेंट करते थे और वही लोग इसे खरीदते थे जिन्हें क्रिप्टो की जानकारी थी. रूजा ने ‘वनकॉइन’ मार्केट में उतारा और देखते-देखते उनकी करंसी ‘बिटकॉइन किलर’ बन गई. फिर क्या था एक डाटा के मुताबिक जनवरी 2015 में वनकॉइन की कीमत 0.43 पौंड थी जो 2019 में 25 पौंड पर पहुंच गई. जिन-जिन लोगों ने इसमें पैसे फंसाए, वे अब भी अपना सर पकड़ कर बैठे हुए हैं. उनके पैसे का कोई अता-पता नहीं है. और ये खूबसूरत क्रिप्टो के जरिये लूट मचाने वाली ruja ignatova भी अभी तक गायब हैं. और इनके भाई जेल की सजा काट रहे हैं.

Crypto या स्टॉक मार्केट ?

ruja के बाद आजकल crypto एक ऐसी चीज़ है जिसका लोग भाव बढाते गिराते रहते हैं. आपको इसका एक Example देते हैं. Crypto currency एक बार 20 हज़ार dollar तक गई थी फिर गिरकर वो 4 हज़ार dollar पर आ गई थी. इसके बाद कई सेलिब्रिटीज ने इसे इन्फ्लुएंस किया था. जिसके बाद प्रभावित होकर कई युवा इसमें इन्वेस्ट करने लगे. लेकिन crypto के fall के बाद इसने फिर तेज़ी पकड़ी जब एलोन मस्क ने इसको सपोर्ट किया. जिसके बाद tesla ने uski payments भी शुरू कर दीं यही नहीं Elon Musk ने पैसे भी बनाये. आपसे कमेंट में जानना चाहूँगा लोग कहते हैं 100 करोड़ कमाए या 100 करोड़ लगाये पर क्या उनके Bitcoin का वॉलेट आपके पास है या Elon Musk ने उसका Screen Shot जारी किया? क्या कोई प्रूफ है की इन्होने इतना खर्च या कमाया होगा और जिस currency से इन्होने 100 मिलियन कमाया उसे बीते दिनों बैन कर दिया. ये PUMP एंड DUMP की प्रक्रिया है.

एलन मस्क ने अपना फैसला बदलते हुए कहा कि टेस्ला कंपनी अब बिटकॉइन में भुगतान नहीं लेगी. ऐसे में पहले लोगों से pump karake इन्वेस्टमेंट कराओ और फिर डंप करके उनके इन्वेस्टमेंट को डुबा दो. एलन मस्क ने ट्वीट में लिखा है कि उनकी कंपनी टेस्ला वाहन खरीदारों से अब बिटकॉइन नहीं लेगा।

आपको बता दें Crypto Currency की आभासी दुनिया से जादा भरोसेमंद स्टॉक मार्किट में इन्वेस्टमेंट है. ऐसे में अगर आपके साथ ruja ignatova की तरह कोई धोखा धडी होती है तो आप सीधे-सीधे रेगुलेटर के जरिये अपना इन्वेस्टमेंट वापस पा सकते हैं लेकिन Crypto Currency का कोई रेगुलेटर न होने से आपका इन्वेस्टमेंट डूब सकता है.

इसलिए समझदारी से निवेश करें और अगर आप जोखिम लेना चाहते हैं तो वहां इन्वेस्टमेंट करें जिसकी विश्वसनीयता हो, ऐसा न हो कि रात में अगर सोने जाएँ तो अगले दिन आपका पैसा सुरक्षित न रहे, एक नासमझी भरे ट्वीट के कारण आपका पूरा पैसा डूब जाये। हमे कमेंट में बताएं की आप किस तरह की मार्किट में इन्वेस्ट करना चाहेंगे?

ये भी पढ़ें : Bombay High Court में इन विभिन्न पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करें आवेदन

Related Articles