IPL
IPL

आखिर क्यों बीमार हो रही हैं संवासिनियां ?

utt-nari niketan-2

देहरादून। नारी निकेतन में रह रही संवासिनियों के बीमार होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। बुधवार को तीन और संवासिनियों को इलाज के लिये दून अस्पताल में भर्ती कराया गया। इससे पहले 8 संवासिनियों का दून अस्पताल में इलाज चल रहा था जिनकी हालत में सुधार बताया जा रहा है। सरकार ने इस मामले को बेहद गंभीरता से लिया है जिसके बाद संवासिनियों के खानपान और स्वास्थ्य की तमाम सुविधायें जुटायी गयी हैं। संवासिनियों का इलाज कर रहे डॉ. राहुल जोशी ने बताया कि तीनों ही संवासिनियों को चक्कर, डायरिया और पेट दर्द की शिकायत के चलते भर्ती किया गया है।

ये भी पढ़ें – नारी निकेतन मामला : तीन दिन में 8 संवासिनियां दून अस्पताल में भर्ती

utt-nari niketan-4

जांच के लिये नारी निकेतन पहुंचे डॉक्टर और नर्सें

सीएम रावत के नारी निकेतन मामले में दखल देने के बाद संवासिनियों की जांच के लिये सीएमओ, डाक्टर और दस नर्सें भी नारी निकेतन पहुंची। डाक्टर ने संवासिनियों की जांच की और नर्सों ने देखभाल। इस बीच सीएमओ एसपी अग्रवाल का कहना है कि अब रोज एक डॉक्टर और 10 नर्सों की निगरानी में नारी निकेतन में संवासिनियों की जांच की जायेगी।

ये भी पढ़ें – संवासिनियों की हालत सुधारने को सीएम ने उठाए तीन अहम कदम

utt-nari niketan-3

घर जाना चाहती हैं संवासिनियां

नारी निकेतन में रह रही संवासिनियों की हालत जानने के लिये उत्तराखंड महिला आयोग की कुमाऊं मंडल उपाध्यक्ष अमिता लोहनी ने भी नारी निकेतन का निरीक्षण किया। लोहनी ने जब सामान्य संवासिनियों से बात की तो वे रोने लगीं। संवासिनियों ने कहा कि वे घर जाना चाहती हैं और घरवाले भी उन्हें ले जाना चाहते हैं। इस पर आयोग उपाध्यक्ष ने उन्हें सीएम से इस मामले में बात करने का आश्वासन दिया। नारी निकेतन के बदले हालात और व्यवस्थाओं पर उपाध्यक्ष ने संतोष जताया।

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button