WhatsApp ने लगाई अपनी Private Policy पर रोक, दिल्ली हाईकोर्ट में हुई ये बात

WhatsApp अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी (Private Policy) को लेकर चर्चा में बना हुआ है और यह विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा। लेकिन अब लग रहा है कि WhatsApp की तेवर कुछ ठंडे पड़ गए है।

नई दिल्ली: WhatsApp अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी (Private Policy) को लेकर चर्चा में बना हुआ है और यह विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा। लेकिन अब लग रहा है कि WhatsApp की तेवर कुछ ठंडे पड़ गए है। कंपनी ने फिलहाल के लिए नई प्राइवेसी पॉलिसी पर रोक लगा दी हैं। बता दें कि WhatsApp के नई प्राइवेसी को इस साल लागू किया जाना था लेकिन विवादों के चलते ऐसा नहीं हो पाया और इसे मई तक के लिए टाल दिया गया था।

इन WhatsApp यूजर्स के अकाउंट हो रहे बंद

जबकी इसे लागू कर दिया और इसे फौलो न करने वाले यूजर्स के अकाउंट बंद करने की बात कही गई। लेकिन अब लंबे विवाद के बाद कंपनी ने नई प्राइवेसी पॉलिसी पर रोक लगा दी है। आपको बता दें कि पिछले दिनों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को नए आईटी नियम का पालन करने को कहा गया है। जिसके बाद WhatsApp ने अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को याचिका दायर की थी। आपको बता दें, की दिल्ली हाई कोर्ट में इस याचिका पर सुनवाई की गई।

इस दौरान WhatsApp ने कोर्ट को बताया कि वह अपनी मर्जी से कुछ समय के लिए नई प्राइवेसी पॉलिसी पर रोक लगा रहा है। इसके बाद सवाल उठा की WhatsApp की प्राइवेसी पॉलिसी यूरोप और भारत के लिए अलग-अलग क्यों है और इस याचिका में कहीं भी इसका जिक्र क्यों नहीं किया गया? इस बीच WhatsApp ने यह स्पष्ट किया कि यूजर्स को नई प्राइवेसी पॉलिसी अपनाने के लिए बाध्य नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें:  India-Srilanka के बीच 18 जुलाई को होगा पहला One Day, देखें नया schedule

साथ ही इस पॉलिसी को नहीं अपनाने वाले यूजर्स के उपयोग के दायरे को भी सीमित नहीं करेगा। यह भी कहा गया है कि इसे स्वीकार करने के लिए यूजर्स पर किसी तरह का दवाब नहीं डाला जाएगा। हालांकि, इस बारे में जानकारी नहीं दी गई है कि पॉलिसी पर कब तक के लिए रोक जारी रहेगी।

यह भी पढ़ें: India-Srilanka के बीच 18 जुलाई को होगा पहला One Day, देखें नया schedule

Related Articles