खिलौने मिले तो खिले बच्चों के चेहरे

0

कोहिनूर क्लब की सदस्यों ने जेल में अपनी माताओं के साथ कैद की सजा काट रहे 6 वर्ष तक के बच्चों के लिए खेल खिलौने बांटे। पहली बार जेल में खिलौने देख यहां मौजूद 25 बच्चों के चेहरे ऐसे खिल उठे जैसे रेगिस्तानी पौधों को पानी की बूंदें मिल गई हों।

gift

क्लब की ओर से बच्चों के बैठने के लिए कुर्सी, खेल खिलौने व महिलाओं के लिए साड़ियां सावन के महीने में उपहार स्वरूप प्रदान की गई। डिस्ट्रिक गवर्नर पारस अग्रवाल व क्लब की अध्यक्ष आशु मित्तल ने बताया कि जल्दी ही इन बच्चों को शिक्षित करने के लिए भी एक शिक्षिका की वयवस्ता की जाएगी।

also read: भक्त हुए बलिहारी, जब श्रीराधा संग झूले कृष्ण मुरारी

चार्टर प्रसीडेंट बबिता चौहान ने कहा कि इस तरह का आयोजन जेल में बच्चों के लिए पहली बार किया गया है। खिलौने पाकर बच्चों के चेहरे पर जो खुसी नजर आई उसे बयां नहीं किया जा सकता। इस मौके पर केल के अधीक्षक शशिकांत, जेलर संजीव सिंह, एसआई एसएच जाफरी, क्सब की सदस्याओं में सचिव उषा अग्रवाल, कोषाध्यक्ष माधुरी गुप्ता, प्रीति अग्रवाल, राशि गर्ग, रीना गर्ग, सारिका अग्रवाल, अंजु बावरी, बबिता अग्रवाल, सुषमा जैन, नीति अग्रवाल आदि मौजूद थीं।

loading...
1
2
शेयर करें