जब पुलिस कमिश्नर एक आम मुस्लिम युवक बनके थाने पहुंचे

एक ज़माने की बात है। बादशाह अकबर ने रियासत का हाल चाल जानना चाहा। बीरबल को बुलाया गया। सलाह हुई की भेस बदल कर अवाम के बीच जाया जाये तो असल हाल मालूम पड़ सकते हैं। बादशाह साहब ने कहा ठीक है। भेस बदल रियासत का हाल चाल लेने निकले तो सच में कई खामियां पता चलीं। यह किस्सा इस लिए सुनाया क्यों की आज इतिहास ने खुद को दोहराया है। पिंपरी चिंचवाड़ के कमिश्नर ने इस ऐतिहासिक तरीके से अपने मातहतों की खबर ली

पुलिस कमिश्नर एक आम मुस्लिम युवक बनके थाने पहुंचे और फरियाद लगाई की साहब हमारी बेगम को गुंडों ने छेड़ा है। इस कदम के पीछे कमिश्नर का मकसद महामारी केर दौर में पुलिसिया कार्यशैली का मुआयना करना था। इसी लिए पुलिस कमिश्नर कृष्ण प्रकाश ने यह अनूठा तरीका अपनाया।

खबर है मेकअप के जरिए अपना हुलिया बदल वह शहर के तीन अलग-अलग पुलिस थानों में गए। और महामारी के इस दौर में पुलिस जनता से कैसा बर्ताव कर रही है इस का मुआयना किया। कमिश्नर के मुताबिक- हिंजवडी और वाकड़ पुलिस स्टेशन में उन्हें अच्छा रिसपॉन्स मिला। ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मी उनके साथ छेड़छाड़ वाले घटनास्थल पर गए। उन्होंने पहले से प्लांट एक शख्स के बारे में भी बताया। पुलिस दर्ज करने ही वाली थी कि तभी कमिश्नर ने उन्हें अपनी सच्चाई बता दी और मुस्तैद पुलिसकर्मियों को शाबाशी दी।

 

Related Articles

Back to top button