जब दो लोगों ने MRI मशीन के अंदर किया सेक्स…

0

कैलिफ़ोर्निया। विज्ञान से इंसानों के अनदेखे पहलुओं पर आयेदिन रिसर्च किया जाता है। अभी इंसानों को होने वाली बीमारियों पर तो कभी उनके रहन-सहन और खान-पान पर। इसी क्रम में एक डच वैज्ञानिक ने सेक्स पर एक नया रिसर्च किया। डच वैज्ञानिक पेक वैन ऐंडेल ने अपने रिसर्च के दोनों लोगों को MRI मशीन के अन्दर सेक्स करने को कहा। वैज्ञानिक कई ऐसे पहलुओं पर रिसर्च करना चाह रहा था जिससे विज्ञान अभी तक अनछुआ है।

सेक्स

MRI के अन्दर सेक्स कर किया रिसर्च
एक वेबसाइट से मिली जानकारी के अनुसार, ऐंडेल ने एक वीडियो बनाया था जिसमें दो लोग MRI मशीन के अंदर सेक्स कर रहे थे। इसका उद्देश्य ये देखना था कि क्या MRI मशीन दो लोगों की सेक्स करते हुए तस्वीरें रिकॉर्ड कर सकती है या नहीं।

मशीन के अंदर सेक्स एक्सपेरिमेंट का उद्देश्य उनकी तस्वीर को रिकॉर्ड करना नहीं था बल्कि डॉ। ऐंडेल और उनकी टीम इस बात पर भी रिसर्च करना चाह रही थी कि संभोग के समय हमारे अंग किस तरह से बर्ताव करते हैं।

1933 और 1964 के दो अध्ययनों को गलत साबित करवा कर इनकी टीम ने ये खोज की कि संभोग के समय पुरुष लिंग ‘बूमरैंग’ शेप का होता है और कामोत्तेजना के समय गर्भाशय का परिमाण नहीं बढ़ता है।

loading...
शेयर करें