WHO ने इमरजेंसी उपयोग के लिए SINOVAC Covid-19 वैक्सीन को मंजूरी दी

नई दिल्ली: वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन WHO ने मंगलवार को इमरजेंसी यूज़ के लिए Sinovac Covid-19 वैक्सीन को मंजूरी दे दी –है. यूनाइटेड नेशनस की स्वास्थ्य एजेंसी WHO ने दो-डोज लगने वाले टीके पर हस्ताक्षर किए, जो पहले से ही दुनिया भर के दर्जनों देशों में उपलब्ध है. यूनाइटेड नेशनस की स्वास्थ्य एजेंसी ने एक बयान में कहा, World Health Organization ने आज इमरजेंसी उपयोग के लिए Sinovac-Coronavac covid-19 वैक्सीन को मान्य किया है, यह टीका सुरक्षा, प्रभावकारिता और निर्माण के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों को पूरा करता है. जिससे यह डब्ल्यूएचओ सत्यापन प्राप्त करने वाला छठी वैक्सीन बन गई है.

एक अन्तराष्ट्रीय न्यूज एजेंसी के मुताबिक, ‘वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन ने इमरजेंसी इस्तेमाल की लिस्ट के लिए Sinovac Biotech द्वारा बनाए गए Covid-19 वैक्सीन को मंजूरी दे दी है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह 18 साल से ऊपर उम्र के लोगों को दी जाएगी. वहीं, पहली डोज लगने के बाद दूसरी डोज 2-4 हफ्तों के बाद दी जा सकती है. चीन के अलावा, अल्जीरिया, कैमरून, मिस्र, हंगरी, इराक, ईरान, पाकिस्तान, पेरू, संयुक्त अरब अमीरात, सर्बिया और सेशेल्स में इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। चीन के 22 देशों में पहले से ही इस्तेमाल किए जा रहे दूसरे टीके वाले सिनोवैक पर एक फैसले की उम्मीद है।

पिछले महीने चीन की Sinoform कंपनी द्वारा बनाई गई एंटी Covid वैक्सीन को WHO ने मंजूरी दी. वह पश्चिमी देशों के बाहर किसी देश के टीके को मिलने वाली पहली मंजूरी थी. वहीं, अभी तक Pfizer, AstraZeneca, Johnson & Johnson, Moderna जैसी वैक्सीन्स को मंजूरी दी जा चुकी है. वहीं, पिछले दिनों हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड ने सरकार को बताया था कि वह कोवैक्सीन टीके को आपात इस्तेमाल के लिए सूचीबद्ध कराने को लेकर 90 प्रतिशत दस्तावेज पहले ही WHO के पास जमा करा चुकी है.

शेष दस्तावेज जून तक जमा कराए जाने की उम्मीद है. इसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO ने कहा था कि भारत बायोटेक को अपने COVAXIN वैक्सीन को आपात इस्तेमाल के लिए सूचीबद्ध कराने को लेकर और अधिक जानकारी देनी होगी.

ये भी पढ़ें : ICC ने लिया ODI, T-20 पर बड़ा फैसला, कुछ इस तरह होगा 2027 और 2031 का ODI वर्ल्ड कप

Related Articles

Back to top button