कोहली और तेंदुलकर में महान कौन, खुद करें फैसला

0

इन दोनों की तुलना करना इसलिए भी जायज नहीं है क्योंकि दोनों ही खिलाड़ियों के खेलने के समय में अच्छा-खासा अंतर है। तेंदुलकर ने महज 16 साल की उम्र में खेलना शुरू किया था और उन्होंने करीब 38 साल की उम्र तक क्रिकेट खेला है। वहीं, कोहली ने साल 2008 में डेब्यू किया था। दोनों में तुलना करना इसलिए भी जायज नहीं है क्योंकि तेंदुलकर उस एरा में बल्लेबाजी करते थे जब मुकाबला बैट और बॉल में होता था।

also read: अफरीदी ने टी20 करियर का पहला शतक जड़कर टीम को दिलाई शानदार जीत

उस एरा में आपको एक से बढ़कर एक गेंदबाज मिलेंगे जो शानदार गेंदबाजी करते थे। अब चाहे वो ब्रेट ली हों या वसीम अकरम, सभी गेंदबाज कभी भी बल्लेबाज को खेलने का मौका नहीं देते थे। यही कारण था कि उस समय के बल्लेबाज कम ही शतक जड़ पाते थे। मगर अब इसका ठीक उल्टा है। आज का दौर ही कुछ अलग है। अब बल्लेबाजों को पूरा मौका मिलता है कि वो अपनी टीम के लिए ज्यादा से ज्यादा रन बटोर पाएं। यही वजह है कि अब बल्लेबाज सेंचुरी ज्यादा लगा पाते हैं।

अगली स्लाइड में पढ़ें : तेंदुलकर ने 1989 में किया था डेब्यू 

loading...
1
2
3
4
शेयर करें