लड़की क्यों, लड़कों सी नहीं होती! इनके पास होता है पुरुषों से तेज दिमाग, Research का दावा

हाल में हुए एक ताजा Research में ये बात सामने आई है की लड़कीयों में लड़को की अपेक्षा अधिक दिमाग पाया जाता है।

लखनऊ:  हाल में हुए एक ताजा Research में ये बात सामने आई है की लड़कीयों में लड़को की अपेक्षा अधिक दिमाग पाया जाता है। यह बात आपके लिए बेहद चौकाने वाली लग सकती है, लेकिन आपको बता दें महिलायों का दिमाग पुरुषों की तुलना में अधिक ध्यान केंद्रित करने, गुस्सा को कंट्रोल करने, और भावनाओं को समझने में ज्यादा सक्रिय होती हैं। इसी कारण लड़कीयां लड़को की तरह नहीं होती।

Research का दावा

ये मैं नहीं, Expert Technics की परिक्षण कह रही हैं। अमेरीका के लेखक डेनियल जी अमेन ने एक रिसर्च के जरिए बताया लिंग पर निर्धारित इस दिमागी अंतर को समझना काफी महत्वपूर्ण है। लड़के और लड़कियां के दिमाग में नसों की बनावट अलग होती है। ताजा रिसर्च का दावा है कि इसीलिए चीजों को समझने का तरीका भी अलग होता है।

महिलाएं पुरुषों के मुकाबले ज्यादा इमोशंस को कंट्रोल करने से लेकर तनाव को कंट्रोल करने तक में ज्यादा सक्रिय होती है। इसी कारण महिलाएं एक साथ अनेक कार्य भी करने में सक्रिय होती है। वहीं पुरुष एक बार में एक ही कार्य करने में सक्रिय होते हैं। इसका जिता जागता उदाहरण आप अपने घरों में देख सकते है कि कैसे मां घर में खाना बनाने से लेकर सफाई करने के साथ बच्चों को लालन पालन कर लेती है। इसके साथ कई महिलाएं कार्यालय के काम को भी आसानी से कर लेती हैं। वहीं पुरुष केवल कार्यालय का काम करने में ही परेशान हो जाते है।

महिलाओं और पुरुषों के दिमाग का अंतर

बात चाहे ध्यान केंद्रित करने की हो या फिर इमोशंस कंट्रोल करके लाइफ से तनाव दूर करने की हो। महिलाओं का दिमाग पुरुषों की तुलना में ज्यादा बेहतर काम करता है। इस स्टडी में यह पाया गया कि महिलाओं और पुरुषों के दिमाग में रक्त संचालन भी अलग अलग तरीके से होता है। इसके कारण दोनों का दिमाग अलग अलग तरीके से प्रभावित होता है।

यह भी पढ़ें

इसी के कारण महिलाएं कार्य में ज्यादा सक्रिय तो होती है लेकिन इसकी वजह से महिलाओं में अल्जाइमर बीमारी (Alzheimer’s disease) यानी की यादाश्त चले जाने की बीमारी, अवसाद (Depression) और तनाव विकार का केश ज्यादा देखा जाता है। इस स्टडी से यह भी पता चलता है की महिलाओं में व्यक्तित्व की अभिव्यक्ति (Expression of Personality) की ज्यादा परख़ होती है। इसके साथ वह निर्णय लेना में भी ज्यादा सक्रिय होती है। ये सभी कारण लड़कियों को लड़को से अलग बनाती है।

Related Articles