नमन ओझा ने आखिर क्यों नम आंखो से कहा क्रिकेट की दुनिया को अलविदा?

नई दिल्ली: भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज नमन ओझा (Naman Ojha) ने एक सोमवार को एक बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया है। 37 साल के भारतीय खिलाडी नमन ओझा (Naman Ojha) ने मध्यप्रदेश के इंदौर के होलकर स्टेडियम में सोमवार शाम को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने का फैसला लिया है। फैसला लेते वक्त उनके आंखे नम हो गई थी और आंखों से आंसू भी छलक गए।

मध्य प्रदेश के रतलाम शहर के रहने वाले भारतीय खिलाडी नमन ओझा ने बताया कि वे अब क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले रहे है। वे अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को आगे नहीं बढ़ा सकते क्योंकि लगातार उनका कमर दर्द परेशान कर रहा है, जबकि परिवार को समय देने अब उनकी प्राथमिकता है। नमन ओझा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर भी इसकी जानकारी साझा की है।

ये भी पढ़ें : बरेली: स्कूल की बिल्डिंग में भीषण आग, कई बसें जलकर राख

नमन ओझा ने टीम इंडिया के लिए एक टेस्ट, एक वनडे और दो टी-20 मुकाबले खेले हैं। घरेलू क्रिकेट और इंडियन प्रीमियर लीग में अच्छे प्रदर्शन के दम पर उन्हें 2010 में टीम इंडिया के जिम्बाब्वे दौरे से इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिला था। एक वनडे और दो टी-20 खेलने के बाद वे टीम से बाहर हो गए थे। 2015 में नमन ओझा को भारत के श्रीलंका दौरे पर टेस्ट में डेब्यू करने का मौका मिला जिसमे उन्होंने 56 रन बनाए थे। इसके अलावा चार कैप भी लपके थे।

ये भी पढ़ें : संभल कर रहे सबका दिल लूटने आ रहे इमरान, नए गाने की रिलीज डेट फाइनल

 

Related Articles

Back to top button