RSS चीफ मोहन भागवत ने क्यों कहा- अगर मैं बोला, तो चली जाएगी नौकरी?

अहमदाबाद: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) चीफ मोहन भागवत ने अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। लेकिन इस बार उनके एक बयान ने सभी को हैरान कर दिया है। दरअसल, गुजरातत के राजकोट में अखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की सालाना बैठक में शामिल होने पहुंचे मोहन भागवत से एयरपोर्ट पर जब पत्रकारों ने कुछ सवाल पूछनी चाहा तो उन्होंने कहा कि अगर मैंने जवाब दिया तो मेरी नौकरी चली जाएगी।

अगर बोला तो चली जाएगी नौकरी भागवत

दरअसल गुजरात के सोमनाथ में 15 से 17 जुलाई तक अखिल भारतीय प्रांत प्रचारकों की तीन दिवसीय सालाना बैठक होने वाली है। जिसके मद्देनजर संघ प्रमुख मोहन भागवत 12 से 18 जुलाई तक सोमनाथ में ही रहेंगे। बैठक में शामिल होने के लिए भागवत संघ के सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य के साथ राजकोट एयरपोर्ट पर पहुंचे तब पत्रकारों के सवाल पर उन्होंने कह दिया कि अगर बोला तो मेरी नौकरी चली जायेगी, बोलने का काम किसी और को दिया गया है।

तीन दिन तक चलेगी प्रांत प्रचारकों की बैठक

तीन दिनों तक चलने वाली इस बैठक में संघ के सर कार्यवाह भैया जोशी के अलावा सभी सह सर कार्यवाह, कार्यकारिणी सदस्य, क्षेत्र प्रचारक, प्रांत प्रचारक और सह प्रांत प्रचारक भाग लेंगे। कयास लग रहे हैं कि इस बैठक में आगामी लोकसभा व तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों व देश के सामाजिक, सांस्कृतिक व अध्यात्मिक विकास के मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की जाएगी।

सोमनाथ मंदिर भी जाएंगी भागवत

इस दौरान मोहन भागवत सोमनाथ पहुंचकर पूजा-अर्चना करेंगे। इसके बाद वव सोमनाथ जिले के स्थानीय कार्यकर्ताओं, स्वयंसेवकों एवं नागरिकों से भी मिलेंगे। वहीं शुक्रवार को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी गुजरात आ रहे हैं, ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि शाह भी सोमनाथ में भागवत से मिल सकते हैं।

Related Articles