देशभर में प्रसिद्ध ‘बनारसी साड़ी’ की चमक आखिर क्यों पड़ी फीकी ?

देश दुनिया में प्रसिद्ध है मशहूर बनारसी साड़ी

बढ़ती महंगाई के असर से अब देश दुनिया में अपनी पहचान के लिए मशहूर बनारसी साड़ी भी अछूती नहीं है. बनारसी साड़ी की चमक फीकी पड़ गई है. चीन से सिल्क आयात पर प्रतिबंध और कोरोना लॉकडाउन के असर से साड़ियों की कीमत 30 फीसदी बढ़ गई है. जिसकी वजह से खरीदार कम हो गए हैं. ऐश्वर्या से लेकर अनुष्का तक, बॉलीवुड की बड़ी हीरोइनों ने अपनी शादी के मौके पर बनारसी साड़ी पहन इसकी चमक को दोगुना कर किया. बनारसी साड़ी देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में सैकड़ों सालों से एक अलग पहचान रखती है.

‘बनारसी साड़ी’ की चमक कम हुई

हालांकि इन दिनों बनारसी साड़ी की चमक थोड़ी कम पड़ गई है. कोरोना के कारण लॉकडाउन और चीन से सिल्क आयात पर प्रतिबंध ने इसके दाम में 30 से 35 फीसदी का इजाफा कर दिया है. ऊपर से बुनकरों के अपने मेहनताने में 20 फीसदी का इजाफा करने के ऐलान ने मुश्किल और बढ़ा दी है. साड़ी कारोबारी लागत बढ़ने और सेल कम होने से परेशान हैं. मकबूल हसन, साड़ी के थोक व्यापारी कहते हैं कि मौजूदा हालात में साड़ी की कीमत बढ़ाने के अलावा उनके पास कोई उपाय नहीं है लेकिन ये बात भी मानते हैं कि इसकी वजह से सेल में गिरावट आएगी.

चीन से सिल्क आयात पर लगा प्रतिबंध

दरअसल बनारस के साड़ी उद्योग को चीन और कर्नाटक से सिल्क मंगवाना पड़ता है. फिलहाल चीन से सिल्क आयात पर प्रतिबंध है जिसकी वजह से कालाबाज़ारी के ज़रिए आया सिल्क महंगा पड़ता है. कर्नाटक का सिल्क बनारसी साड़ी उद्योग की मांग पूरी कर पाने में नाकाम है और चीन से सिल्क न आने की वजह से महंगा भी हो गया है. इन वजहों ने भी साड़ी महंगी कर दी है.

यह भी पढ़ें- PD Exclusive: उम्रकैद की सजा काट रहा ‘कलुआ’ बन्दर, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles