IPL
IPL

Chhattisgarh की बोहार भाजी क्यों है इतनी मंहगी?, जानें क्या है इसकी खूबियां

छत्तीसगढ़ के लोग भाजी खाने को बहुत ज्यादा ही शौकिन होते हैं। छत्तीसगढ़ीया भाजियों में बोहार भाजी सबसे महंगी होती है

रायपुर: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के लोग भाजी खाने को बहुत ज्यादा ही शौकिन होते हैं। छत्तीसगढ़ीया भाजियों में बोहार भाजी (Bohar Bhaji) सबसे महंगी होती है। बोहार भाजी पूरे साल में सिर्फ कुछ दिनों तक ही मिल पाती है। लेकिन इसका स्वाद लाजवाब होता है। इस भाजी की कीमत 400 रूपए तक होती है।

औषधी के रूप में उपयोग

छत्तीसगढ़ के इलाकों में पाया जाने वाला बोहार एक बहुत उपयोगी पेड़ है। इसके फूल, फल एवं पत्तियों का उपयोग खाद्य के रूप में किया जाता है। पतझड़ के बाद आने वाली कोमल पत्तियाँ एवं फूल। जिसे बोहार भाजी (Bohar Bhaji) के नाम से जाना जाता है। इसका उपयोग सब्जि के रूप में किया जाता है। इसके फल को लसोड़ा कहते हैं जिसका उपयोग आम के साथ बनाए जाने वाले अचार के साथ किया जाता है। इस फल के पकने पर एक गोंद जैसा पदार्थ निकलता है जिसका उपयोग औषधी के रूप में किया जाता है।

🥗 शुद्ध शाकाहारी भोजन Images jas - ShareChat - भारत का अपना भारतीय सोशल  नेटवर्क | 100% भारतीय एप्प !

खट्टी चीजों में बनती है भाजी

छत्तीसगढ़ में गर्मी शुरू होते ही लोगों में बोहार भाजी की मांग शुरू हो जाती है। इस भाजी का स्वाद बहुत ज्यादा ही लाजवाब होता है इसलिए लोगों में इस भाजी को खाने की उत्सुकता बढ़ जाती है। बोहार का पेड़ छत्तीसगढ़ के अलावा कई प्रदेशो में भी मिलता है जिसे अलग-अलग नामों से जाना जाता है। इस पेड़ का बॉटिनिकल नाम कोर्डिया डिकोटोमा (Cordia Dichotoma) है। अंग्रेजी में इसे बर्ड लाइम ट्री (Bird lime tree) कहा जाता है। छत्तीसगढ़ में यह भाजी मार्च के महीने में बिकती है। इस सब्जी को बनाने में खट्टी चीजों को डाला जाता है जैसे- दही, इमली और मठ्ठा। बोहार भाजी महंगी होने के बावजूद भी बाजारों में इसकी डिमांड रहती है। अगर आपको इस भाजी का स्वाद चखना है तो मार्च के महीने में छत्तीसगढ़ आ जाए।

यह भी पढ़ेCorona Vaccination: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने लगवाई वैक्सीन की पहली डोज, राज्यों में बढ़ा संक्रमण

Related Articles

Back to top button