छ: साल का टाईगर बना जंगली सुअर का शिकार, जंगल में मिला मृत

भोपाल। मौजूदा समय में देश में टाईगर सुरक्षा को लेकर काफी प्रयास चल रहे है। टाईगरों की संख्या लगातार देश में घटती ही जा रही है। जहां एक तरफ टाईगरों की संख्या घटती जा रही है, वहीं एक औऱ घटना ने वनविभाग के हाथ पैर फुला दिये है। आपको बताते चले कि अभी हाल ही में एक टाईगर के लिए एक जंगली सुअर मुसीबत बन गया। जंगली सुअर ने टाईगर को घायल कर मार दिया।

यह ताजा मामला मध्यप्रदेश के बालाघाट जिले का है, जहां टाईगर और जंगली सुअर की लड़ाई में टाईगर मारा गया। इस टाईगर को वहीं के कान्हा पेंच के किनारे घाटल म्रत पाया गया। यह मामला शनिवार की रात का था, लेकिन इस मामले में पूरी कार्यवाही रविवार को हुई।

इस मामले में टाईगर को मारने का कोई  दूसरा कारण ही आय़ा है। बड़े अधिकारियों ने अनुमान लगाया था कि टाईगर को इलेक्ट्रिक करेंट और जहर देकर मारा गया है, लेकिन पोस्टमार्टम की रिपार्ट में ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है। जंगली सुअल इसलिए साफ हो चुका है क्योकिं जांच के दौरान मौके पर जंगली सुअर के बाल पाये गए है। मीडिया को इस बात की जानकारी डीएफओ अधिकारी देवा प्रासन ने दी है।

अधिकारियों के मुताबिक जंगली सुअर ने बहुत ही खतरनाक तरीके से टाईगर से लड़ाई की होगी। जंगली सुअर बहुत ही खतरनाक जानवर के रूप में देखा जाता है। यह जानवर अपने बचाव के लिए काफी क्रूर औऱ भयंकर रूप धारण कर लेता है। बात अगर उसके बच्चो को बचाने की हो तो यह किसी भी हद तक जा सकता है। बालाघाट क्षेत्र बहुत ही खतरनाक औऱ असुरक्षित क्षेत्र के मामले में जाना जाता है।

 

 

Related Articles