क्या कल से भारत में बैन हो जायेगा Instagram, Twitter, Facebook, Whatsapp ? पढ़ें रिपोर्ट

नई दिल्ली:  भारत सरकार द्वारा बनायीं गई नई Social Media Guidelines को पूरा करने के लिए इन डिजिटल मीडिया कम्पनीज को सरकार ने 3 महीने का समय दिया था जो कल 26 मई को पूरा हो रहा है. लेकिन इन कम्पनीज ने उन गाइडलाइन्स को अभी तक पूरा नहीं किया है. जिसके बाद Facebook, Twitter, Instagarm, whatsapp और YouTube को भारत में आपराधिक कार्रवाई का सामना करना पड़ सकता है. बता दें की सरकार द्वारा नई Social Media Guidelines फरवरी में पारित की गई थी, हालांकि 50 लाख से ज्यादा रजिस्टर्ड यूज़र्स वाले ‘महत्वपूर्ण सोशल मीडिया इंटरमीडियरीज’ के लिए विशेष प्रावधान बुधवार, 26 मई को लागू होने हैं. ऐसे में अगर Facebook, Twitter, Instagram ने इन नियमों का पालन नहीं किया तो इन्हें बंद कर दिया जाएगा.

निगरानी के लिए नियुक्त करें अधिकारी

आपको बता दें कि भारत सरकार ने इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मिनिस्ट्री की ओर से इन कम्पनियों को 25 फरवरी 2021 को तीन महीने का समय दिया था. इस दिए हुए समय में इन्हें डिजिटल कंटेंट को विनियमित करने के निर्देश दिए गए थे. इसके लिए कंप्लायंस अधिकारी, नोडल अधिकारी आदि को भारत में रखने लिए कहा गया था। भारत सरकार का कहना था कि जिन्हें भी नियुक्त किया जाए उनका कार्यक्षेत्र भारत में ही होना चाहिए. साथ ही यह भी कहा गया था कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को आपत्तिजनक कंटेट की निगरानी, कंप्लायंस रिपोर्ट और आपत्तिजनक सामग्री को हटाना होगा.

सरकार ने दिया था 3 महीने का समय कुछ ने माँगा था 6 माह

इन डिजिटल मीडिया कंपनियों से इस दौरान ये भी कहा गया था कि Social Media Guidelines के नए नियमों के तहत अगर कोई भी कंटेंट रिलेटेड या अन्य प्रकार की शिकायत मिलती है तो उसे 24 घंटों के भीतर एंटरटेन करना होगा. साथ ही 15 दिनों के अन्दर उसका निपटारा भी करें. वहीं, अगर कार्रवाई नहीं होती है तो उसका कारण बताना होगा. इस नए Social Media Guidelines को फॉलो करने के लिए कुछ प्लेटफॉर्म्स ऐसे भी थे जिन्होंने 6 महीने का समय मांगा था, इनमें से कुछ का कहना यह भी था कि उन्हें अपने हेडक्वार्टर से निर्देश नहीं मिले हैं जो कि अमेरिका में स्थित है.

Koo ने किया नियमों का पालन

बता दें कि अभी तक एकमात्र Koo aap है जिसने इन गाइडलाइन्स को पूरा किया है. Koo ने जानकारी देते हुए बताया कि, ‘Koo की निजता निति, टर्म्स ऑफ यूज और कम्यूनिटी गाइडलाइन्स पर लागू नियमों की आवश्यकताओं को दर्शाते हैं. इसके अलावा, Koo ने भारतीय निवासी मुख्य अनुपालन अधिकारी, नोडल अधिकारी और ग्रीवियंस ऑफिसर के सपोर्ट के साथ एक डिलिजेंस एंड ग्रीवियंस रेड्रेसल मैकेनिज्म को लागू किया है.’

ये भी पढ़ें : 26 मई को किसान मनाएंगे ‘ब्लैक डे’, टिकैत बोले, ‘जो जहां वहीं लगाये काला झंडे’

Related Articles

Back to top button