पर्यावरण के खातिर उठे इस सरकारी कदम का क्या वाकई होगा pollution पर असर ?

नई दिल्ली : मिनिस्ट्री ऑफ़ एनवायरनमेंट ने शुक्रवार को मीडिया को दिए अपने बयान में कहा की मिनिस्ट्री ने प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट के नए नियमों को हरी झंडी दे दी है। जिसके तहत 2022 तक सिंगल यूज़ प्लास्टिक के आइटम पर बैन लगाई जाएगी। मिनिस्ट्री ने कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक की चीज़ों से होने वाला pollution आज आज देश और दुनिया के सामने बड़ी चुनौती बन गया है। इसी लिए पर्यावरण की फ़िक्र करने वाला भारत सिंगल यूज़ प्लास्टिक के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध है।

 सिंगल यूज़ प्लास्टिक फैलती है pollution

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की सरकार ने तब सिंगल यूज प्लास्टिक आइटम को लिस्टेड किया, जब इनका निर्माण, आयात, स्टोरेज, वितरण और बिक्री 1 जुलाई, 2022 से प्रभावी रूप से बंद हो जाएगी। इस कड़ी में  प्लास्टिक स्टिक वाली इयर बड, गुब्बारों के लिए प्लास्टिक की स्टिक, प्लास्टिक के झंडे, कैंडी की स्टिक, आइसक्रीम स्टिक, सजावट के लिए थर्मोकोल, प्लेट, कप, गिलास, कटलरी जैसे कांटे, चम्मच, चाकू, पुआल, ट्रे, मिठाई के बॉक्स के चारों ओर फिल्म लपेटना या पैकिंग करना, निमंत्रण कार्ड और सिगरेट के पैकेट इन सब पर पाबन्दी लग जाएगी।

यह भी पढ़ें : Indian Idol 12 के फिनाले से ठीक पहले हुई नए होस्ट की एंट्री, Aditya Narayan का हुआ पत्ता साफ?

मिनिस्ट्री ने कहा कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश की सरकारों और संबंधित केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों से सिंगल यूज प्लास्टिक को खत्म करने और प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट नियम, 2016 को प्रभावी और समयबद्ध तरीके से लागू करने के लिए एक व्यापक कार्य योजना बनाने का भी अनुरोध किया गया है।

यह भी पढ़ें : Bigg Boss OTT: Shamita Shetty के साथ-साथ इन 4 कंटेस्टेंट्स पर भी गिरी आफत, लगा First Nominations का ठप्पा

Related Articles