अमिताभ ठाकुर पुलिस को विद्रोही बना रहे थे : डीजीपी सिद्दू

dgp_1449590519

लखनऊ। निलंबित आईपीएस अमिताभ ठाकुर के खिलाफ चल रही विभागीय जांच में उत्तराखंड के डीजीपी बीएस सिद्दू ने लखनऊ आकर गवाही दी। श्री सिद्दू ने कहा कि अमिताभ ठाकुर का भी पड़ोसी राज्य में मूल कैडर था। एक वरिष्ठï आईपीएस होने के नाते उन्होंने कार्यवाही नहीं की।

निलंबित आईपीएस अमिताभ ठाकुर के खिलाफ चल रहे विभागीय जांच में उत्तराखंड के डीजीपी बीएस सिद्धू ने 14 दिसंबर 2015 को लखनऊ आ कर गवाही दी। डीजीपी बीएस सिद्दू ने कहा कि अमिताभ और उनकी पत्नी नूतन ठाकुर ने प्रेस वार्ता कर न्यायालय में विचाराधीन मामलों पर भ्रामक बातें कही गयीं और ऐसा करने के पहले उनसे संपर्क नहीं किया जिससे दिखता है कि उन्होंने ऐसा कुछ लोगों के स्वार्थों को पूरा करने के लिए किया था। श्री सिद्धू ने कहा कि अमिताभ का यह कृत्य पुलिस रेस्ट्रिक्शन ऑफ राइट्स एक्ट तथा धरा 219 आईपीसी में अपराध था। क्योंकि इस बयान से अधीनस्थ पुलिसकर्मियों में विद्रोह की सुगबुगाहट हो गयी थी। फिर भी वे एक पड़ोसी राज्य जो उनका भी मूल कैडर था के वरिष्ठ आईपीएस होने के नाते उन्होंने कार्यवाही नहीं की।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button