संभल : 5 लोगों ने महिला के साथ किया गैंगरेप, फिर मंदिर के हवनकुंड में जिंदा जलाया

0

संभल। उत्तर प्रदेश के संभल से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां बलात्कार के बाद एक महिला को जिंदा जला दिया गया। इस घटना ने जाहिर कर दिया कि यूपी में किस हद तक कानून व्यवस्था चरमरा गई है। प्रदेश में महिलाओं के साथ आये दिन घिनौने अपराध हो रहे हैं और राज्य सरकार उनपर काबू करने में नाकाम है।

संभल

बताया ये भी जा रहा है कि महिला ने मरने से पहले पुलिस की डायल 100 सेवा को काल किया था लेकिन फोन नहीं लग तो उसने भाई को सारी बातें बताई। मिली जानकारी के मुताबिक, यह दर्दनाक घटना संभल के राजपुरा थाना इलाके के पाठकपुर गांव की है। मृतक महिला का पति गाज़ियाबाद में मजदूरी करता है। घटना के समय महिला अपनी सात साल की बेटी के साथ घर में अकेली सो रही थी। तभी गांव के नामज़द अभियुक्त महावीर, आराम सिंह, चरण सिंह, गुल्लू और भौना घर में आ घुंसे और हथियार के बल पर महिला के साथ गैंगरेप किया।

महिला ने अपनी इस बात की खबर देने के लिए डायल 100 सेवा में कॉल किया लेकिन लगा नहीं फिर उसने अपने भाई को फोन किया और बताया कि उसके साथ क्या हैवानियत हुयी है। उसने ये भी बताया कि उसे जिंदा जला कर मारने की धमकी दे रहे हैं। भाई कुछ कर पाता तभी गैंगरेप करने के बाद चले गए आरोपी कुछ देर बाद फिर उसके घर आए और उसे लेकर चले पास में बनी मंदिर की झोपड़ी में ले गए और वहां जिन्दा जला दिया।

महिला के साथ इस तरह का जघन्य हरकत करने वाला महावीर रिश्ते में मृतक का जेठ बताया जाता है और बाकि रिश्ते के भतीजे लगते हैं। आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने बलात्कार और हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। सभी आरोपी फरार बताये जा रहे हैं। पुलिस इनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है। वहीँ पोस्ट मार्टम रिपोर्ट भी आगयी है जिसमे महिला की मौत की वजह जलना बताया गया है। जबकि बलात्कार की पुष्टि के लिए स्लाइड रिपोर्ट एफ़ एस एल लैब मुरादाबाद भेजी गयी है।

बरेली ज़ोन प्रेम प्रकाश ने रविवार शाम को संभल पहुंचकर घटना स्थल का निरिक्षण किया और आरोपियों की जल्द गिरफ़्तारी के आदेश दिए हैं। वहीँ इस घटना में लापरवाही बरतने के आरोप में चौकी इंचार्ज और दो सिपाहियों सहित तीन पुलिस वालों को लाईन हाज़िर कर दिया गया है। इसघटना के बाद से ही इलाके में दहशत का माहौल है।

 

loading...
शेयर करें