पीएनबी बैंक की महिला अधिकारी ने की आत्महत्या, IPS समेत इनपर लगाया गंभीर आरोप

अयोध्या: यूपी की रामनगरी अयोध्या में पंजाब नेशनल बैंक की मुख्य शाखा ख़्वासपुर में ऑफिसर रैंक पर तैनात श्रद्धा गुप्ता ने किराए के मकान में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मकान मालिक ने जब शव लटकता हुआ देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को उतारा और छानबीन में अंग्रेजी में एक सुसाइड नोट मिला। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मरने से पहले मृतक श्रद्धा गुप्ता ने अंग्रेजी में एक सुसाइड नोट भी लिखा है, जिसने उसने 3 लोगों को अपनी आत्महत्या का कथित तौर पर जिम्मेदार ठहराया है। इसमे एसएसएफ हेड लखनऊ आईपीएस आशीष तिवारी समेत पुलिस विभाग में तैनात अनिल रावत और विवेक गुप्ता को बताया गया है। सुइसाइड नोट मे आरोपितों पर हैरेसमेंट का आरोप लगाया गया है।

लखनऊ की रहने वाली श्रद्धा गुप्ता अयोध्या में 5 वर्षों से पीएनबी बैंक की शाखा में काम करती थी। श्रद्धा गुप्ता को शुक्रवार की रात परिवारीजनों ने फोन किया तो उसका फोन नहीं उठा। शंका होने पर जब शनिवार को सुबह भी जब उसका फोन नहीं उठा तो मकान मालिक को उसके परिवारीजनों उसका हाल जानने को कहा।

मकान मालिक ने फांसी पर लटके हुए देखा शव

मकान मालिक ने जब उसके कमरे में जाने की कोशिश की तो देखा दरवाजा अंदर से बंद था। काफी खटखटाने के बाद जब दरवाजा नहीं खुला तो उसने ऊपर लगी खिड़की से झांककर देखा तो वह फांसी पर लटकी हुई दिखी। उसके पैर जमीन से सटे हुए थे। मकान मालिक ने परिजनों को सूचना दी और पुलिस को सूचना दी।

एसएसपी शैलेश पांडेय का कहना है कि कमरे का दरवाजा तोड़ कर खोला तो श्रद्धा का शव दुपट्टे से लटकी मिली। पोस्टमॉर्टम के लिए शव को भेजा गया है। पीएम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। सुइसाइड नोट मिला है, उसकी जांच कराई जाएगी। उसमें कुछ नाम हैं वह नाम कैसे आए हैं। उसकी जांच की जा रही है जो तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles