महिलाओं को Periods के पांच दिन पहले और पांच दिन बाद नहीं लेनी चाहिए Corona वैक्सीन, जानें Viral Message का पूरा सच

देश भर में कोरोना के मामले बेतहाशा बढ़ रहे हैं। सरकार लोगों से कह रही है कि वो वैक्सीन जरूर लगवाएं। इस बीच कई तरह के मैसेज वायरल हो रहे हैं। इन्हीं में से एक मैसेज ऐसा है जो महिलाओं के मासिक धर्म (Period Cycle) से जुड़ा है।

नई दिल्ली: देश भर में कोरोना के मामले बेतहाशा बढ़ रहे हैं। सरकार लोगों से कह रही है कि वो वैक्सीन जरूर लगवाएं। इस बीच कई तरह के मैसेज वायरल हो रहे हैं। इन्हीं में से एक मैसेज ऐसा है जो महिलाओं के मासिक धर्म (Period Cycle) से जुड़ा है। इस मैसेज में कहा गया है कि महिलाओं को पीरियड्स से पांच दिन पहले और पांच दिन बाद वैक्सीन नहीं लगवानी चाहिए।

वायरल मैसेज में और भी कई तरह के दावे किए गए हैं। लिखा गया है कि इससे इम्युनिटी कम होती है। वहीं एक अन्य मैसेज में कहा जा रहा है कि कोविड-19 वैक्सीन महिलाओं के मासिक धर्म यानी पीरियड्स और फर्टिलिटी को प्रभावित करती है। हलांककि प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो PBI के फैक्ट चेक ने इन दावों को फेक बताया है।  PBI ने बताया की 18 साल के ऊपर के सभी लोगों को 1 मई के बाद टीकीकरण (Covid Vaccine for 18 Year) करवाना चाहिए।

Press Information Bureau ने बताया फेक

इन दावों को पीआईबी (PBI) ने ट्वीटर के जरिए स खबर को फेक बताया है। वहीं येल स्कूल ऑफ मेडिसिन की डॉ रैन्डी हटर एप्स्टीन और ऐलिस लु-कुलिगन ने कहा है, ‘अब तक ऐसा कोई डेटा नहीं मिला है जो कोरोना वैक्सीन और मासिक धर्म में होने वाले बदलाव के बीच किसी तरह के लिंक को स्थापित कर पाए।’

ट्विटर पर भी कई डॉक्टर महिलाओं से यही अपील कर रहे हैं कि असामान्य पीरियड्स और कोरोना वैक्सीन के बीच कोई लिंक नहीं है इसलिए अफवाहों पर ध्यान देने की बजाए 1 मई से सभी लोगों को वैक्सीन जरूर लेनी चाहिए।

यह भी पढ़ें

मुंबई के एक अस्पताल की गाइनैकॉलजिस्ट डॉ वैशाली जोशी कहती हैं, कोरोना वैक्सीन का मासिक धर्म पर कोई असर नहीं पड़ता है। कोविड-19 वैक्सीन पीरियड्स या उसके फ्लो को किसी भी तरह से प्रभावित करती है, इस बात के कोई सबूत मौजूद नहीं हैं। लिहाजा आपको अपने पीरियड्स की वजह से वैक्सीन डेट को रीशेड्यूल करने की जरूरत नहीं। 18 साल से अधिक उम्र की सभी महिलाओं को वैक्सीन जरूर लेनी चाहिए।

Related Articles