वर्ल्ड नंबर वन टेनिस प्लेयर एश्ले बार्टी ने भी जताया यूएस ओपन के आयोजन पर आपत्ति

ब्रिस्बेन: विश्व की नंबर एक महिला खिलाड़ी एश्ले बार्टी भी उन खिलाड़ियों में से एक हो गई हैं, जिन्होंने कोरोना वायरस को लेकर अनिश्चितता के बाद भी यूएस ओपन टेनिस टूर्नमेंट के आयोजन पर चिंता जताई है। बार्टी को अभी फ्रेंच ओपन के खिताब का बचाव करने का मौका नहीं मिला क्योंकि सभी टेनिस प्रतियोगिताएं ठप्प पड़ी हैं।

वह जानती हैं कि 2020 में विंबलडन नहीं होगा लेकिन वह पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार 31 अगस्त से शुरू होने वाले यूएस ओपन को लेकर स्पष्ट फैसले का इंतजार कर रही हैं। नोवाक जोकोविच और राफेल नडाल भी यूएस ओपन के लिये खिलाड़ियों पर संभावित प्रतिबंधों और अन्य बदलावों को लेकर आशंकाएं जता चुके हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक़ विश्व की नंबर दो महिला खिलाड़ी सिमोना हालेप का खेलना भी संदिग्ध है। बार्टी ने कहा, ‘मैं भी चिंतित हूं। मैं जानती हूं कि आयोजक टूर्नमेंट के आयोजन के इच्छुक हैं लेकिन हर किसी को सुरक्षित रखना प्राथमिकता होनी चाहिए।’ न्यूयॉर्क में अगस्त में इस ग्रैंड स्लैम टूर्नमेंट के आयोजन पर अमेरिकी टेनिस संघ इस सप्ताह फैसला कर सकता है।

Related Articles