विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल सेमीफाइनल में

राफेल नडाल ने गत चैंपियन यूनान के स्तेफानोस सितसिपास को गुरूवार को तीन सेटों में 6-4, 4-6, 6-2 से हराकर सत्र के आखिरी टेनिस टूर्नामेंट एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स के ग्रुप लंदन 2020 से सेमीफाइनल में जगह बना ली।

लंदन: विश्व के दूसरे नंबर के खिलाड़ी स्पेन के राफेल नडाल ने गत चैंपियन यूनान के स्तेफानोस सितसिपास को गुरूवार को तीन सेटों में 6-4, 4-6, 6-2 से हराकर सत्र के आखिरी टेनिस टूर्नामेंट एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स के ग्रुप लंदन 2020 से सेमीफाइनल में जगह बना ली।

2005 से लगातार 16वीं बार इस टूर्नामेंट में खेल रहे 20 ग्रैंड सलेम खिताबों के विजेता नडाल ने अब तक एक बार भी यह खिताब नहीं जीता है। नडाल को मालूम था कि यदि वह सितसिपास के खिलाफ नहीं जीते तो उन्हें टूर्नामेंट से बाहर हो जाना पड़ेगा लेकिन उन्होंने दूसरा सेट हारने के बाद निर्णायक सेट में अपने खेल के स्तर को ऊंचा उठाते हुए गत चैंपियन को दो घंटे पांच मिनट में पराजित कर दिया।

नडाल छठी बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचे हैं और उनका पहली बार यह खिताब जीतने का सपना बरकरार है। नडाल का अपने ग्रुप में 2-1 का रिकॉर्ड रहा और वह ऑस्ट्रिया के डोमिनिक थिएम के बाद ग्रुप में दूसरे स्थान पर रहे। थिएम को अपने आखिरी ग्रुप मैच में रूस के आंद्रेई रुब्लेव ने 6-2, 7-5 से हरा दिया। इस हार के बावजूद थिएम ग्रुप में शीर्ष पर रहे।

नडाल ने मैच के बाद कहा कि साल के आखिरी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचना उनके लिए काफी महत्वपूर्ण है और अब उन्हें रूस के डेनिल मेदवेदेव के खिलाफ सेमीफाइनल का इन्तजार है।

एक साल पहले नडाल ने सितसिपास को पहले मैच में दो घंटे 52 मिनट में हराया था लेकिन वह सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाए थे। नडाल को इस बार सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए हर हाल में यह मैच जीतना था और दूसरे सेट में लड़खड़ाने के बावजूद उन्होंने निर्णायक सेट में शानदार वापसी करते हुए जीत हासिल की।

नडाल ने इस जीत से सितसिपास के खिलाफ अपना रिकॉर्ड 6-1 पहुंचा दिया है। सितसिपास इस हार के साथ टूर्नामेंट से बाहर हो गए और इस साल का समापन उन्होंने 29-14 के रिकॉर्ड के साथ किया।

इसे भी पढ़े: बर्फबारी के कारण 86 किमी लम्बी ऐतिहासिक मुग़ल रोड बंद

Related Articles

Back to top button