IPL
IPL

World Water Day 2021: क्यों मनाया जाता है यह दिवस, जानें क्या है इस बार की Unique थीम

ब्राजील के रियो डी जेनेरियो में साल 1992 में आयोजित पर्यावरण और विकास का संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में विश्व जल दिवस (World Water Day) मनाने की पहल की गई थी

नई दिल्ली: विश्व जल दिवस (World Water Day) 22 मार्च को हर साल मनाया जाता है। खाने के बिना हम कुछ दिन तो रह सकते हैं लेकिन पानी के बिना हम एक दिन भी नहीं रह सकते है। क्यों कि जल हमारे लिए जीवन है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य विश्व के सभी विकसित देशों में स्वच्छ एवं सुरक्षित जल की उपलब्धता सुनिश्चित करवाना है साथ ही यह जल संरक्षण के महत्व पर भी ध्यान केंद्रित करता है।

ब्राजील में आयोजित सम्मेलन

ब्राजील (Brazil) में रियो डी जेनेरियो (Rio de Janeiro) में साल 1992 में आयोजित पर्यावरण और विकास का संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में विश्व जल दिवस (World Water Day) मनाने की पहल की गई तथा वर्ष 1993 में संयुक्त राष्ट्र ने अपने सामान्य सभा के द्वारा निर्णय लेकर इस दिन को वार्षिक कार्यक्रम के रूप में मनाने का निर्णय लिया इस कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों के बीच में जल संरक्षण का महत्व साफ पीने योग्य जल का महत्व आदि बताना था।

पहला जल दिवस

1993 में पहली बार ‘विश्व जल दिवस’ (World Water Day)  मनाया गया था और संयुक्त राष्ट्र संघ ने 1992 में अपने ‘एजेंडा 21’ में रियो डी जेनेरियो में इसका प्रस्ताव दिया था। संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, लगभग 4 बिलियन लोग साल में कम से कम एक महीने के लिए पानी की भारी कमी का अनुभव करते हैं और लगभग 1.6 बिलियन लोग दुनिया की आबादी का लगभग एक चौथाई – एक स्वच्छ, सुरक्षित जल आपूर्ति तक पहुंचने में समस्याएं हैं।

जल दिवस का महत्व

पानी के बिना जीवन जीवित ही नहीं रहेगा। इसी कारणवश अधिकांश संस्कृतियां नदी के पानी के किनारे विकसित हुई हैं। इस प्रकार ‘जल ही जीवन है’ (water is life)  का अर्थ सार्थक है। दुनिया में, 99% पानी महासागरों, नदियों, झीलों, झरनों आदि के अनुरूप है। केवल 1% या  इससे भी कम पानी पीने के लिए उपयुक्त है। हालांकि, पानी की बचत आज की सबसे महत्वपूर्ण आवश्यकता है। केवल पानी की कमी पानी के अनावश्यक उपयोग के कारण है।

 

बढ़ती आबादी और इसके परिणामस्वरूप बढ़ते औद्योगिकीकरण (Industrialization) के कारण शहरी मांग में वृद्धि हुई है और पानी की खपत बढ़ रही है। आप सोच सकते हैं कि एक मनुष्य अपने जीवन काल में कितने पानी का उपयोग करता है,  किंतु क्या वह इतने पानी को बचाने का प्रयास करता है? असाधारण आवश्यकता को पूरा करने के लिए, जलाशय गहरा गया है। इसके परिणामस्वरूप, पानी में लवण की मात्रा में वृद्धि हुई है।

विश्व जल दिवस का थीम

साल 2021 के लिए इस बार विश्व जल दिवस का थीम है  ‘पानी का महत्व’ (Importance of Water) रखा गया है। ताकि हम पानी के महत्व को समझें।

यह भी पढ़े10वीं, 12वीं पास के लिए ISRO में जाने का शानदार मौका, जानिए किन पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करें आवेदन

Related Articles

Back to top button