जावीद अहमद क्‍यों बने डीजीपी… दाखिल हो गई याचिका

 

javid-ahmad-5686c2472543d_exlst

लखनऊ। आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर की पत्नी एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने सोमवार को नए डीजीपी एस जावीद अहमद की नियुक्ति के खिलाफ इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच में याचिका दायर की है।

याचिका के अनुसार यूपी में वरिष्‍ठता क्रम में जावीद अहमद से ऊपर 13 सीनियर आईपीएस अफसर मौजूद हैं जिनमें आठ अफसर अभी राज्य सरकार में काम कर रहे हैं। चार आईपीएस अफसर केंद्र सरकार में डेपुटेशन पर हैं।

पढ़े: डीजीपी बनने के लिए सीनियरटी नहीं, ‘सेटिंग’ भी जरूरी

याचिका के अनुसार सुप्रीम कोर्ट ने प्रकाश सिंह बनाम भारत सरकार में कहा था कि प्रदेश के डीजीपी को राज्य सरकार द्वारा संघ लोक सेवा आयोग द्वारा नामित तीन वरिष्ठतम आईपीएस अफसरों में से उसकी सेवा अवधि, उनके बहुत अच्छे रिकॉर्ड और अनुभव के विस्तार के आधार पर पुलिस फ़ोर्स के नेतृत्व के लिए चयनित किया जाएगा जबकि श्री जावीद को इसके उल्लंघन में नियुक्‍त किया गया है।

नूतन ने कहा कि जब भी स्थापित विधि का उल्लंघन होता है, इसके गलत सन्देश जाते हैं और यह ख़राब उदहारण प्रस्तुत करता है, अतः विधिक रूप से इस पद के हक़दार नहीं होने के कारण श्री जावीद को इस पद से हटाने के आदेश दिए जाएं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button